1. हिन्दी समाचार
  2. कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत का नाम सामने

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत का नाम सामने

Rajasthans Chief Minister Ashok Gehlot Can Become The New National President Of Congress Party

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

नई दिल्ली। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से राहुल गांधी के बाद कौन होगा कांग्रेस का नया अध्यक्ष इस बात को लेकर चर्चा है। सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है की राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को कांग्रेस पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जा सकता है। पार्टी की वर्किंग कमेटी में इस संबंध में विचार विमर्श हो चुका है अशोक गहलोत से भी उनकी राय पूछी जा चुकी है।

पढ़ें :- Hyderabad Election: रुझानों में हुआ बड़ा उलटफेर, टीआरएस निकली आगे, भाजपा हुई पीछे

सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी से भी चर्चा हो चुकी है। माना जा रहा है कि कांग्रेस के अगले राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक गहलोत होंगे लेकिन इसमें भी एक बड़ी अपडेट यह है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी भी अशोक गहलोत के पास रहेगी।

जानकारी मिली है की अशोक गहलोत ने सीएम पद पर भी काम करते रहने की भी इच्छा जाहिर की है। वहीं पार्टी के भीतर एक बड़ा धड़ा इस बात का समर्थक भी है कि इससे पार्टी को लाभ होगा। गौरतलब है कि अखिलेश यादव मायावती नवीन पटनायक जयललिता और ममता बनर्जी मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर भी काम करते रहे हैं। मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए अशोक गहलोत को देश के अन्य राज्यों में प्रोटोकोल भी मिल सकेगा।

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर अशोक गहलोत को जिम्मेदारी देने के पीछे एक नहीं कई वजह है। गौरतलब है कि अशोक गहलोत राजस्थान में तीन बार मुख्यमंत्री रहने के साथ-साथ पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और राष्ट्रीय संगठन महासचिव के तौर पर भी काम कर चुके हैं। उनके कार्यकाल के दौरान पार्टी के संगठन को मजबूती मिली है कांग्रेस के बड़े और युवा नेताओं के बीच अशोक गहलोत की स्वीकार्यता है।

अशोक गहलोत गांधी परिवार के प्रति निष्ठा रखते हैं और राहुल गांधी के अलावा सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी के साथ अशोक गहलोत की बेहतर अंडरस्टैंडिंग है। कांग्रेस की वर्किंग कमेटी के नेताओं के साथ भी अशोक गहलोत का बेहतर तालमेल है।

पढ़ें :- महराजगंज:रुई के गोदाम में लगी भीषण आग,लाखों रुपये का सामान जलकर हुआ राख

अशोक गहलोत को चुनने के पीछे एक बड़ी वजह यह भी है कि राहुल गांधी ने देश में ओबीसी और दलित जाति में से राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनने की बात कही है लिहाजा ओबीसी जाति से होने से भी अशोक गहलोत का पक्ष मजबूत होता है। अशोक गहलोत के मुख्यमंत्री बने रहने से राजस्थान में भी सरकार में अस्थिरता की स्थिति नहीं होगी क्योंकि ज्यादातर विधायक अशोक गहलोत के समर्थन में है। देखना होगा की कब तक आधिकारिक ऐलान किया जाता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...