पाकिस्तान से तनाव के बीच परमाणु नीति पर बोले राजनाथ, कहा-हालात पर निर्भर करेगा इसका प्रयोग

rajnath singh
चीन से तनाव के बीच रक्षामंत्री राजनाथ सिंह रूस के लिए हुए रवाना, रक्षा और रणनीतिक साझेदारी होगी गहरी

नई दिल्ली। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पोखरण में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की पहली पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारी नीति रही है कि हम परमाणु हथियार का पहले प्रयोग नहीं करेंगे। हालांकि, आगे क्या होगा, यह पस्थितियों पर निर्भर करता है। आज पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि है।

Rajnath Said On Nuclear Policy :

पोखरण पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उन्हें श्रद्धां​जलि देते हुए अटल जी के साहसिक फैसले का जिक्र किया है। बता दें, मई 1998 में पोखरण में परमाणु परीक्षण किया गया था। उस समय अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे। इससे पहले केंद्रीय रक्षामंत्री ने फेसबुक पोस्ट लिखकर अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी थी।

उन्होंने लिखा, ‘अटलजी भारतीय राजनीति के ऐसे युगपुरूष थे, जिन्होंने मूल्यों एवं आदर्शों के साथ शुचिता और सुशासन की राजनीति को बढ़ावा दिया। उनका, सबका साथ सबका विश्वास का भाव आज भी हम सबके लिए प्रेरणा है। ‪अटलजी की प्रथम पुण्यतिथि पर मैं उन्हें नमन करते हुए अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।’‬ गौरतलब है कि, लंबे समय से ​बीमार चल रहे अटल बिहारी वाजपेयी का निधन 16 अगस्त 2018 को हुआ था।

नई दिल्ली। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पोखरण में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की पहली पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारी नीति रही है कि हम परमाणु हथियार का पहले प्रयोग नहीं करेंगे। हालांकि, आगे क्या होगा, यह पस्थितियों पर निर्भर करता है। आज पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि है। पोखरण पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उन्हें श्रद्धां​जलि देते हुए अटल जी के साहसिक फैसले का जिक्र किया है। बता दें, मई 1998 में पोखरण में परमाणु परीक्षण किया गया था। उस समय अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे। इससे पहले केंद्रीय रक्षामंत्री ने फेसबुक पोस्ट लिखकर अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी थी। उन्होंने लिखा, 'अटलजी भारतीय राजनीति के ऐसे युगपुरूष थे, जिन्होंने मूल्यों एवं आदर्शों के साथ शुचिता और सुशासन की राजनीति को बढ़ावा दिया। उनका, सबका साथ सबका विश्वास का भाव आज भी हम सबके लिए प्रेरणा है। ‪अटलजी की प्रथम पुण्यतिथि पर मैं उन्हें नमन करते हुए अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।'‬ गौरतलब है कि, लंबे समय से ​बीमार चल रहे अटल बिहारी वाजपेयी का निधन 16 अगस्त 2018 को हुआ था।