संसद में बोले राजनाथ, सैफुल्लाह के पिता पर देश को गर्व

नई दिल्ली| गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज यूपी की राजधानी लखनऊ में आतंकी के एनकाउंटर को लेकर लोकसभा में बयान दिया| उन्होंने कहा कि भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन ब्लास्ट के संबंध में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया| जांच के आधार पर यूपी में छापेमारी की गई| इसके बाद सैफुल्लाह की जानकारी मिली| उन्होंने कहा कि आतंकी को जिंदा पकड़ने की बहुत कोशिश की गई| उसे बार-बार सरेंडर करने को कहा गया लेकिन वह नहीं माना| उसने फायरिंग शुरू कर दी| कई घंटो की मुठभेड़ के बाद सैफुल्लाह को मार गिराया गया| सुरक्षा एजेंसियो की इस कार्रवाई की तारीफ करते हुए राजनाथ ने कहा कि सुरक्षा एजेंसियों के वजह से एक बड़ा खतरा टल गया|




इस दौरान राजनाथ ने सैफुल्लाह के पिता सरताज की भी तारीफ कि जिन्होंने अपने आतंकी बेटे का शव लेने से इनकार कर दिया था| उन्होंने कहा कि पूरे देश और सदन को सरताज जैसे पिता पर नाज है| उन्होंने कहा, “मैं और पूरा सदन सैफुल्ला के पिता के प्रति सहानुभूति व्यक्त करता हूं| बेटे की देशद्रोही हरकतों की उन्हें अपने बेटे को खोना पड़ा| सरकार और पूरे सदन को सरताज पर गर्व है|”




गौरतलब है कि सैफुल्लाह के पिता सरताज ने अपने आतंकी बेटे का शव लेने से इनकार करते हुए कहा था, “जो देश का न हुआ वह मेरा कैसे हो सकता है| उसने कोई सही काम तो किया नहीं| मुझे उसका मुंह नहीं देखना| सैफुल्लाह ने मुझे शर्मिदा कर दिया| हर किसी के लिए देश पहले है, लेकिन सैफुल्ला के लिए नहीं| जो देश का नहीं, वह मेरा क्या होगा|”