अपनी हरकतों से बाज नहीं आया पाकिस्तान तो हो जाएंगे दस टुकड़े: गृह मंत्री

Rajnath Singh Attacks Pakistan Says Army Will Give Befitting Reply

कठुआ। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि हम उस पर गोली नहीं चलाना चाहते लेकिन वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आया तो उसके दस टुकड़े भी हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान चाहता है कि आतंकवाद का सहारा लेकर जम्मू-कश्मीर को भारत से अलग कर दे लेकिन उसे यह मुगालता नहीं पालना चाहिए। पाकिस्तान को समझना चाहिए कि आतंकवाद कायरों का हथियार होता है, बहादुरों का नहीं।सिंह ने कठुआ जिले में शहीद दिवस कार्यक्र म को संबोधित करते हुए कहा, पाकिस्तान कभी न कभी हमारे ही परिवार का अंग रहा है, हम अभी भी उसे अलग नहीं मानते।




पाक ने भारत पर चार बार हमला किया लेकिन यहां के जवानों ने उनके दांत खट्टे किए। करगिल युद्ध में भी पाक को शिकस्त खानी पड़ी थी। अब वह समझ चुका है कि वह भारत को सीधे परास्त नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि करगिल युद्ध के बाद भी अटल जी ने पाक की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाया था लेकिन पाक ने उसके बदले क्या दिया, संघर्ष विराम का उल्लंघन। उन्होंने पाकिस्तान पर भारत को धार्मिक आधार पर बांटने के लिए षड्यंत्र रचने का आरोप भी लगाया लेकिन साथ ही कहा कि वह सफल नहीं होगा। उन्होंने कहा, हमें 1947 में धार्मिक आधार पर बांटा गया था। हम उसे भूल नहीं पाये हैं। सभी भारतीय भाई हैं।




चाहे वे हिंदू मां की कोख से पैदा हुए हों या मुस्लिम मां की कोख से। उन्होंने कहा कि भारत के अलावा विश्व में कहीं भी इस्लाम के 72 फिरके शांतिपूर्ण तरीके से साथ नहीं रहते। उन्होंने कहा कि देश के गृहमंत्री के तौर पर वह यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि भारत सभी को साथ लेकर और विकास के मार्ग पर आगे बढ़ने को लेकर प्रतिबद्ध है। उन्होंने पाकिस्तान को उसकी धरती से आतंकवाद की बुराई के खात्मे के लिए भारत के सहयोग की पेशकश की। उन्होंने कहा, पाकिस्तान यदि आतंकवाद के खात्मे को लेकर गंभीर है, लेकिन वह यह करने में असमर्थ है तो हम वहां से आतंकवाद का खात्मा के वास्ते मदद को तैयार हैं।

कठुआ। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि हम उस पर गोली नहीं चलाना चाहते लेकिन वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आया तो उसके दस टुकड़े भी हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान चाहता है कि आतंकवाद का सहारा लेकर जम्मू-कश्मीर को भारत से अलग कर दे लेकिन उसे यह मुगालता नहीं पालना चाहिए। पाकिस्तान को समझना चाहिए कि आतंकवाद कायरों का हथियार होता है, बहादुरों का नहीं।सिंह ने कठुआ जिले में…