राहुल गांधी के गुजरात दौरे को राजनाथ ने बताया आपदा पर्यटन, नहीं मानते SPG की बात

गृहमंत्री राजनाथ सिंह
राहुल गांधी के गुजरात दौरे को राजनाथ ने बताया आपदा पर्यटन, नहीं मानते SPG की बात

नई दिल्ली। गुजरात के बाढ़ग्रस्त इलाकों के दौरे के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की गाड़ी पर हुए पथराव के मामले पर संसद में उठाए गए सवाल पर केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को अपना पक्ष सदन में रखा। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी एसपीजी (SPG) सुरक्षा को तोड़कर गुजरात के बाढ़ग्रस्त इलाकों के मुआयने पर नहीं बल्कि आपदा पर्यटन पर गए थे। एसपीजी सुरक्षाकर्मियों और गुजरात पुलिस ने राहुल गांधी की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बुलेट प्रूफ गाड़ी से दौरा करने को कहा था लेकिन वह नहीं माने। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों द्वारा रोके जाने के बावजूद लगातार गाड़ी से उतर कर जगह जगह लोगों से मिल रहे थे।

राजनाथ सिंह ने सदन को बताया कि यह पहला मामला नहीं है पिछले दो सालों में राहुल गांधी 121 में 100 बार एसपीजी सुरक्षा को तोड़ चुके हैं। इस दौरान वह 6 बार करीब 72 दिनों तक विदेश दौरों पर रहे इस दौरान भी उन्होंने एसपीजी सुरक्षा नहीं ली। वह विदेश दौरों पर किस लिए जाते हैं, क्या वह देश से कुछ छुपा रहे हैं यह उन्हें देश को और सदन को बताना चाहिए।

उन्होंने गुजरात में राहुल गांधी की सुरक्षा में तैनात पुलिस अधिकारियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि राहुल गांधी देश की अनमोल धरोहर हैं। गृह मंत्रालय उनकी सुरक्षा के लिए पूरी तरह से गंभीर है, लेकिन जब वह स्वयं ही अपने लिए तैयार किए गए सुरक्षा घेरे को तोड़ देते हैं, इसके लिए सुरक्षाकर्मियों को दोषी नहीं ठहराया जा सकता।

गुजरात में राहुल गांधी की गाड़ी पर पथराव करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जानकारी देते हुए बताया कि गुजरात पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई कर कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है और बाकी की पहचान की जा रही है। पथराव करने वालों के खिलाफ गुजरात पुलिस कार्रवाई कर रही है।