गोरखपुर उपचुनाव की हार ने अहसास कराया कि ऐसा भी हो सकता है : राजनाथ

गोरखपुर उपचुनाव की हार ने अहसास कराया कि ऐसा भी हो सकता है : राजनाथ
गोरखपुर उपचुनाव की हार ने अहसास कराया कि ऐसा भी हो सकता है : राजनाथ

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश लोकसभा उपचुनाव की हार ने भाजपा को अहसास कराया कि ‘ऐसा भी हो सकता है’ लेकिन ‘यह दोबारा नहीं होगा’। बिहार के अररिया और उत्तरप्रदेश के गोरखपुर व फुलपूर में हार के कुछ दिन राजनाथ ने यह बयान दिया। सिंह ने न्यूज18 राइजिंग इंडिया समिट को संबोधित करते हुए कहा, “हो गया, आगे नहीं होगा। हमें पता चला है कि ऐसा भी हो सकता है।

Rajnath Singh On Gorakhpur Bypoll Result :

राहुल गांधी ने इससे पहले बयान दिया था कि देश भाजपा के खिलाफ खड़ा हो रहा है, जिस पर राजनाथ सिह ने कहा, वह हमारे विपक्षी नेता हैं और कई चीजें वह कहते रहेंगे लेकिन केवल समय बताएगा कि देश किसके साथ खड़ा है। यह पूछे जाने पर कि क्या वह प्रधानमंत्री बनने का सपना देखते हैं, इस पर उन्होंने कहा, मैं ‘अतिमहत्वाकांक्षी’ नहीं हूं। लेकिन हां, अगर किसी को अवसर मिले तो उसे जरूर पूरा करना चाहिए। हमारे प्रधानमंत्री बहुत अच्छा काम कर रहे हैं।”

अध्योध्या मसले पर यह बोले राजनाथ
वहीं अयोध्या में राम मंदिर को लेकर श्री श्री रविशंकर की पहल से जुड़े एक सवाल पर राजनाथ सिंह ने कहा, ‘रविशंकर जी बड़ी हस्ती हैं, वह कोशिश कर रहे हैं तो हम उन्हें रोक नहीं सकते। जहां तक सरकार का सवाल है तो यह मामला न्यायालय में विचारधीन है। हम उसके निर्णय की प्रतीक्षा कर रहे हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि कोर्ट के फैसले को देश के हिंदू, मुसलमान दोनों स्वीकार करेंगे।”

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश लोकसभा उपचुनाव की हार ने भाजपा को अहसास कराया कि 'ऐसा भी हो सकता है' लेकिन 'यह दोबारा नहीं होगा'। बिहार के अररिया और उत्तरप्रदेश के गोरखपुर व फुलपूर में हार के कुछ दिन राजनाथ ने यह बयान दिया। सिंह ने न्यूज18 राइजिंग इंडिया समिट को संबोधित करते हुए कहा, "हो गया, आगे नहीं होगा। हमें पता चला है कि ऐसा भी हो सकता है।राहुल गांधी ने इससे पहले बयान दिया था कि देश भाजपा के खिलाफ खड़ा हो रहा है, जिस पर राजनाथ सिह ने कहा, वह हमारे विपक्षी नेता हैं और कई चीजें वह कहते रहेंगे लेकिन केवल समय बताएगा कि देश किसके साथ खड़ा है। यह पूछे जाने पर कि क्या वह प्रधानमंत्री बनने का सपना देखते हैं, इस पर उन्होंने कहा, मैं 'अतिमहत्वाकांक्षी' नहीं हूं। लेकिन हां, अगर किसी को अवसर मिले तो उसे जरूर पूरा करना चाहिए। हमारे प्रधानमंत्री बहुत अच्छा काम कर रहे हैं।"अध्योध्या मसले पर यह बोले राजनाथ वहीं अयोध्या में राम मंदिर को लेकर श्री श्री रविशंकर की पहल से जुड़े एक सवाल पर राजनाथ सिंह ने कहा, 'रविशंकर जी बड़ी हस्ती हैं, वह कोशिश कर रहे हैं तो हम उन्हें रोक नहीं सकते। जहां तक सरकार का सवाल है तो यह मामला न्यायालय में विचारधीन है। हम उसके निर्णय की प्रतीक्षा कर रहे हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि कोर्ट के फैसले को देश के हिंदू, मुसलमान दोनों स्वीकार करेंगे।"