टाडा के तहत आजीवन कारावास की सजा काट रहे सिख कैदी को रिहा करने का आदेश

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने टाडा के तहत आजीवन कारावास की सजा काट रहे एक सिख आतंकवादी को माफी दे दी और उसे जेल से रिहा करने का आदेश दिया। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने वरयाम सिंह को रिहा करने का आज आदेश दिया।

वरयाम सिंह इस समय उत्तर प्रदेश के बरेली जेल में बंद है। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक़, वरयाम सिंह को रिहा किये जाने को लेकर गृह मंत्रालय ने उसके अच्छे व्यवहार के साथ-साथ उसके द्वारा करीब 25 साल की सजा काटे जाने का हवाला दिया।

सूत्रों ने कहा कि वरयाम ने कभी पेरोल नहीं लिया और जेल में उसका व्यवहार निष्कलंक रहा। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने इस आशय का प्रस्ताव यह कहते हुए आगे बढ़ाया था कि उसे रिहा किया जाना चाहिए क्योंकि उसकी आयु भी 70 वर्ष हो गयी है। सिंह उन 13 कैदियों में शामिल है जिसको छोड़े जाने की मांग पंजाब की शिरोमणि अकाली दल-भाजपा सरकार करती रही है।

Loading...