भूकंप लाने की बात करते हैं लेकिन उनके बोलने से हवा तक नहीं चली: राजनाथ

हरदोई। 2017 में होने जा रहे पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है वैसे वैसे राजनीतिक दलों के बीच जुबानी जंग तेज होती दिख रही है। ऐसे में देश के सबसे बड़ी सियासी जमीन यूपी की बात करें तो यहां की सियासी हवा में चुनावी गर्मी अहसास होने लग गया है। यूपी में ही मंगलवार को एक परिवर्तन रैली को संबोधित कर रहे केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस के नौजवान नेता कहते हैं कि वह बोलेंगे तो भूचाल आ जाएगा। शायद वह भूल जाते हैं कि वह पहले भी बोलते रहे हैं लेकिन उनके बोलने से हवा तक नहीं चली।




इसके साथ ही राजनाथ सिंह ने सूबे के विधानसभा चुनावों में भाजपा की सबसे बड़ी प्रतिद्वंदी पार्टियों सपा और बसपा पर हमला बोलते हुए कहा कि इन दोनों पार्टियों ने उत्तर प्रदेश को जिस विकास और सुशासन से दूर कर दिया है, भाजपा उसे सही ट्रैक पर लाएगी। भाजपा के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार की मुख्यविरोधी पार्टी कांग्रेस सहित तमाम विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने हमें लोकसभा और राज्यसभा में नोटबंदी पर चर्चा नहीं करने दी, इसलिए हमने इस मुद्दे पर जनता के बीच जाने का फैसला किया।

भाजपा की उपलब्धी के रूप में मध्य प्रदेश के विकास को गिनाते हुए उन्होंने कहा कि एक वक़्त था जब यूपी का सीमावर्ती प्रदेश मध्य प्रदेश ‘बीमारू’ राज्य कहलाता था, लेकिन भाजपा की सरकार बनने के बाद आज वहां ‘विकास’ अपने चरम पर है। यूपी में भाजपा की सरकार बनने के बाद यहां भी विकास सर्वोपरि एजेंडा होगा।




बतौर केन्द्रीय मंत्री आतंकवाद के मुद्दे पर राजनाथ सिंह ने तीखे तेवर दिखाते हुए कहा कि किसी से लड़ना चाहिए, तो छुपकर वार नहीं करना चाहिए। बहादुर तो वो है जो आमने-सामने की जंग करने को तैयार हो।

Loading...