राजनाथ की पाकिस्तान को खुली चुनौती, कहा- दम है तो सामने आकर लड़ो

ग्रेटर नोएडा| पाकिस्तान की ओर से सीमा पार से किए जा रहे अप्रत्यक्ष हमलों पर निशाना साधते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा कि आतंकवाद का हथियार की तरह इस्तेमाल कायर करते हैं। अपना 55वां स्थापना दिवस मना रही भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) की ओर से ग्रेटर नोएडा में आयोजित एक समारोह के दौरान राजनाथ सिंह ने कहा कि कुछ ताकतें हैं जो भारत पर टेढ़ी निगाह रखती हैं और भारत को अस्थिर करने और तोड़ने की साजिशें कर रही हैं।




इस दौरान उन्होंने पाकिस्‍तान को खुली चुनौती देते हुए कहा कि प्रॉक्‍सी वॉर नही, दम है तो सामने आकर लड़ो। उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बिना कहा पाकिस्तान कायर देश है, जो पीठ पीछे वार करता है। उन्‍होंने कहा कि सीमा पर पाकिस्‍तानी गोलीबारी का भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है। हमारा पड़ोसी देश आतंकवाद का सहारा ले रहा है, प्रॉक्सी वॉर कर रहा है लेकिन असली वीर वो नहीं होते जो प्रॉक्सी वॉर करते है, असली वीर वो हैं जो सीने का बटन खोल कर आंख में आंख डाल के लड़ते हैं। दम है तो दुश्‍मन सामने आए। उन्होंने कहा कि सीमा पर होने वाली हर घुसपैठ का हमारे जवान मजबूती के साथ जवाव दे रहे हैं, लेकिन हमारी ओर से कोई पहल नहीं होगी।

गृह मंत्री ने आगे कहा, “भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ रही अर्थव्यवस्था है। ऐसे में स्वाभाविक है कि कुछ ताकतें हम पर बुरी नजर रखे हुए हैं। वे भारत को अस्थिर करना चाहते हैं, वे हमारे देश को तोड़ने और कमजोर करने की साजिशें रच रहे हैं।” उन्होंने आगे कहा, “हमारा पड़ोसी देश भारत के साथ अप्रत्यक्ष युद्ध छेड़ने के लिए आतंकवाद का सहारा ले रहा है। इस दौरान राजनाथ ने छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद के खिलाफ लड़ाई में और पूर्वोत्तर के राज्यों में अलगाववादी चरमपंथियों को विफल करने में आईटीबीपी की भूमिका की भी सराहना की।