रजनीगंधा पान मसाला नहीं है सुरक्षित

रजनीगंधा पान मसाला नहीं है सुरक्षित

यूं ही नहीं रजनीगंधा बन जाता हूं मैं। ये कुछ ऐसी टैगलाइन हैं जिसके दम पर रजनीगंधा ने पान मसाला बाजार में अपनी शुद्धता और क्वालिटी को एक ब्रांड के रूप में स्थापति किया है। आपको जानकार हैरानी होगी कि जिस रजनीगंधा को आप माउथ फ्रेशनर और पान मसाला के रूप में यूज करते हैं वह केवल टीवी कामर्शियल्स में ही अपनी शुद्धता का दावा करते हैं। वास्तविकता में यह पान मसाला आप के स्वास्थ्य के लिए हानि​कारक है।

मिली जानकारी के मुताबिक चमोली जिले की खाद्य सुरक्षा अदालत ने रजनीगंधा पान मसाले को खाने के लिहाज से असुरक्षित घोषित कर दिया है। रजनीगंधा पान मसाले की जांच के बाद अदालत के समक्ष पेश की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि सैंपल में मैग्नीशियम कार्बोनेट और हानिकारक रंग कारमोजीन की मौजूदगी पाई गई है। यह दोनों ही पदार्थ एक आम आदमी के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं।

{ यह भी पढ़ें:- लॉंच हुआ 24 मेगापिक्सल वाला Vivo V7, ये हैं फीचर्स }

अदालत ने इस रिपोर्ट के आधार पर रजनीगंधा पान मसाला का उत्पादन करने वाली कंपनी पर चार लाख का जुर्माना और पान मसाला विक्रेता पर 15 हजार नगद का जुर्माना लगाया है।

Loading...