राज्यसभा चुनाव: कांग्रेस ने मल्लिकार्जुन खड़गे को कर्नाटक से बनाया उम्मीदवार

Mallikarjun khadge
राज्यसभा चुनाव: कांग्रेस ने मल्लिकार्जुन खड़गे को कर्नाटक से बनाया उम्मीदवार

नई दिल्ली। देश में राज्यसभा चुनाव के लिए भारत निर्वाचन आयोग की अनुमति मिलने के बाद कांग्रेस ने शुक्रवार को कर्नाटक से राज्यसभा उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस ने कर्नाटक से लोकसभा में पार्टी के नेता रहे मल्लिकार्जुन खड़गे को राज्यसभा भेजने का फैसला लिया है। पार्टी महासचिव मुकुल वासनिक की ओर से जारी बयान के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उम्मीदवारी के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री खड़गे के नाम को स्वीकृति प्रदान की। कर्नाटक में राज्यसभा की चार सीटों के लिए 19 जून को चुनाव होना है।

Rajya Sabha Elections Congress Made Mallikarjun Kharge Candidate From Karnataka :

कांग्रेस के दो मौजूदा राज्यसभा सदस्यों एमवी राजीव गौड़ा और बीके हरिप्रसाद का कार्यकाल इस महीने के आखिर में पूरा हो रहा है। राज्य विधानसभा के मौजूदा संख्या बल के आधार पर कांग्रेस को चार में से सिर्फ एक सीट मिलती दिख रही हैं। भाजपा के खाते में दो सीटें जाना तय माना जा रहा है। ऐसे में चौथी सीट के लिए चुनाव की संभावना है। अगर कांग्रेस और जनता दल (सेक्युलर) साझा उम्मीदवार खड़ा करते हैं तो चौथी सीटें उनके खाते में आ सकती है।

बता दें कि, मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं। 1972 से लेकर अब तक मल्लिकार्जुन खड़गे लगातार नौ बार विधायक रहे और दो बार सांसद चुने गए। लेकिन 2019 में हुए लोकसभा चुनावों में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। उनकी हार इसलिए भी चौंकाने वाली थी, क्योंकि कर्नाटक की गुलबर्गा सीट को कांग्रेस का गढ़ माना जाता था, वहां से कांग्रेस नेता को पराजय हासिल हुई।

नई दिल्ली। देश में राज्यसभा चुनाव के लिए भारत निर्वाचन आयोग की अनुमति मिलने के बाद कांग्रेस ने शुक्रवार को कर्नाटक से राज्यसभा उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस ने कर्नाटक से लोकसभा में पार्टी के नेता रहे मल्लिकार्जुन खड़गे को राज्यसभा भेजने का फैसला लिया है। पार्टी महासचिव मुकुल वासनिक की ओर से जारी बयान के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उम्मीदवारी के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री खड़गे के नाम को स्वीकृति प्रदान की। कर्नाटक में राज्यसभा की चार सीटों के लिए 19 जून को चुनाव होना है। कांग्रेस के दो मौजूदा राज्यसभा सदस्यों एमवी राजीव गौड़ा और बीके हरिप्रसाद का कार्यकाल इस महीने के आखिर में पूरा हो रहा है। राज्य विधानसभा के मौजूदा संख्या बल के आधार पर कांग्रेस को चार में से सिर्फ एक सीट मिलती दिख रही हैं। भाजपा के खाते में दो सीटें जाना तय माना जा रहा है। ऐसे में चौथी सीट के लिए चुनाव की संभावना है। अगर कांग्रेस और जनता दल (सेक्युलर) साझा उम्मीदवार खड़ा करते हैं तो चौथी सीटें उनके खाते में आ सकती है। बता दें कि, मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं। 1972 से लेकर अब तक मल्लिकार्जुन खड़गे लगातार नौ बार विधायक रहे और दो बार सांसद चुने गए। लेकिन 2019 में हुए लोकसभा चुनावों में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। उनकी हार इसलिए भी चौंकाने वाली थी, क्योंकि कर्नाटक की गुलबर्गा सीट को कांग्रेस का गढ़ माना जाता था, वहां से कांग्रेस नेता को पराजय हासिल हुई।