1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Rajya Sabha Elections: समाजवादी पार्टी से कौन होगा राज्यसभा उम्मीदवार? इन नामों की चल रही है चर्चा

Rajya Sabha Elections: समाजवादी पार्टी से कौन होगा राज्यसभा उम्मीदवार? इन नामों की चल रही है चर्चा

सपा के पास 112 विधायक हैं, जबकि सहयोगी दलों के विधायकों को मिला लें तो ये संख्या 125 हो जाती है। एक सीट के लिए कम से कम 37 वोट चाहिए। इस हिसाब से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के तीन सांसद चुने जा सकते हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Rajya Sabha Elections: उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सांसद बनने के लिए टिकट के दावेदारों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। समाजवादी पार्टी की तरफ से कई दिग्गज राज्यसभा जाने के लिए अपनी—अपनी दावेदारी ठोंक रहे हैं। वहीं, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव इसको लेकर पार्टी के ​सीनियर नेताओं से राय मशविरा कर रहे हैं। विधायकों की संख्या के हिसाब से समाजवादी पार्टी तीन नेताओं को राज्यसभा भेज सकती है।

पढ़ें :- Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में सियासी उठापटक पर बोले अखिलेश यादव-ये सत्ता की भूख का विषकाल

दरअसल, सपा के पास 112 विधायक हैं, जबकि सहयोगी दलों के विधायकों को मिला लें तो ये संख्या 125 हो जाती है। एक सीट के लिए कम से कम 37 वोट चाहिए। इस हिसाब से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के तीन सांसद चुने जा सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट की माने तो सपा गठबंधन में शामिलम आरएलडी चाहती है कि जयंत चौधरी राज्यसभा चले जाएं। हालांकि, इसको लेकर कुछ लोगों का कहना है कि अगर वो राज्यसभा चले जाएंगे तो बागपत सीट से लोकसभा चुनाव में कौन उतरेगा?

सूत्र बता रहे हैं कि जयंत चौधरी राज्यसभा जाने के लिए बेताब हैं। इसके साथ ही दूसरा नाम कपिल सिब्बल का चल रहा है। हालांकि, अभी वो यूपी कोर्ट से कांग्रेस से राज्यसभा के सांसद हैं। सुप्रीम कोर्ट में आज़म खान का केस वही लड़ रहे हैं। उनके लिए आज़म ने आसमान सर पर उठा रखा है। अगर अखिलेश ने सिब्बल को राज्य सभा की सीट दे दी तो फिर आज़म की उनसे नाराज़गी भी ख़त्म हो जाएगी।

इसके साथ ही एक मुस्लिम चेहरे को भी पार्टी राज्यसभा भेज सकती है। हालांकि, वो कौन होगा इस पर सस्पेंस बना हुआ है। कहा जा रहा है कि, कांग्रेस छोड़ कर समाजवादी पार्टी में शामिल हुए इमरान मसूद का नाम की भी चर्चा में है। इसके साथ ही दूसरा नाम सलीम शेरवानी का है। इसके साथ ही जावेद अली खान का भी नाम चर्चा में है, जो समाजवादी पार्टी से राज्यसभा का सासंद रह चुके हैं। इन्हें रामगोपाल यादव का करीबी माना जाता है।

पढ़ें :- By-elections 2022: आजमगढ़ और रामपुर में 23 जून को डाले जाएंगे वोट, थम गया चुनाव प्रचार
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...