1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. राज्यसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, संसद ने दी तीन श्रम सुधार विधेयकों को मंजूरी

राज्यसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, संसद ने दी तीन श्रम सुधार विधेयकों को मंजूरी

By शिव मौर्या 
Updated Date

Rajya Sabha Proceedings Adjourned Sine Die Parliament Approves Three Labor Reform Bills

नई दिल्ली। कोरोना संकट के दौरान राज्यसभा मानसून सत्र निर्धारित समय से आठ दिन पहले ही अनिश्चित काल के लिए स्थगित हो गया। छोटी सी अवधि होने के बावजूद सत्र के दौरान 25 विधेयकों को पारित किया जबकि हंगामे के कारण आठ विपक्षी सदस्यों को निलंबित कर दिया गया। एक अक्टूबर तक चलने वाले सत्र को 8 दिन पहले ही खत्म करने का फैसला लिया गया।

पढ़ें :- बिहार में सियासी संकट के बीच जेडीयू ने मोदी मंत्रिमंडल में मांगी हिस्सेदारी

राज्यसभा में इस सत्र में कुल 25 विधेयक पारित किए गए। इसमें कृषि से संबंधित तीन और श्रम सुधार से जुड़े तीन विधेयक शामिल हैं। सभापति वेंकैया नायडू ने कहा, ‘सदन के लिए 18 बैठकें निर्धारित की गई थीं लेकिन 10 ही हो सकी और इस दौरान 25 विधेयक पारित किए गए।’

सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि यह सत्र कुछ मामलों में ऐतिहासिक रहा क्योंकि इस दौरान उच्च सदन के सदस्यों को बैठने की नई व्यवस्था के तहत पांच अन्य स्थानों पर बैठाया गया। ऐसा उच्च सदन के इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ। इसके अलावा सदन ने लगातार दस दिनों तक काम किया।

शनिवार और रविवार को सदन में अवकाश नहीं रहा। इसके अलावा संसद ने बुधवार को तीन प्रमुख श्रम सुधार विधेयकों को मंजूरी दे दी। जिनके तहत कंपनियों को बंद करने की बाधाएं खत्म होंगी और अधिकतम 300 कर्मचारियों वाली कंपनियों को सरकार की इजाजत के बिना कर्मचारियों को निकालने की अनुमति होगी।

राज्यसभा ने ध्वनि मत से औद्योगिक संबंध, सामाजिक सुरक्षा और व्यावसायिक सुरक्षा पर शेष तीन श्रम संहिताओं को पारित किया। इस दौरान आठ सांसदों के निष्कासन के विरोध में कांग्रेस, वामपंथी और कुछ अन्य विपक्षी दलों ने राज्यसभा की कार्यवाही का बहिष्कार किया।

पढ़ें :- GST काउंसिल की बैठक खत्म, ब्लैक फंगस की दवा टैक्स फ्री,जानें थर्मामीटर पर कितना लगेगा टैक्स

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X