1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. राकेश टिकैत, बोले- बीजेपी का कोई नेता मंच पर कब्‍जा करने की करेगा कोशिश तो बक्‍कल उधेड़ दूंगा

राकेश टिकैत, बोले- बीजेपी का कोई नेता मंच पर कब्‍जा करने की करेगा कोशिश तो बक्‍कल उधेड़ दूंगा

गाजीपुर बार्डर पर बुधवार को भाजपा कार्यकर्ताओं और किसानों के बीच जबरदस्त भिड़ंत हुई है। इस दौरान किसान नेता राकेश टिकैत का गुस्‍सा भड़क गया है। उन्‍होंने चेतावनी देने के लहजे में कहा कि यहां कोई मंच पर कब्जा करने की कोशिश करेगा तो बक्कल उधेड़ देंगे। ये लोग फिर प्रदेश में कहीं नज़र नहीं आएंगे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। गाजीपुर बार्डर पर बुधवार को भाजपा कार्यकर्ताओं और किसानों के बीच जबरदस्त भिड़ंत हुई है। इस दौरान किसान नेता राकेश टिकैत का गुस्‍सा भड़क गया है। उन्‍होंने चेतावनी देने के लहजे में कहा कि यहां कोई मंच पर कब्जा करने की कोशिश करेगा तो बक्कल उधेड़ देंगे। ये लोग फिर प्रदेश में कहीं नज़र नहीं आएंगे।

पढ़ें :- Bharat Band : किसानों के भारत बंद से Delhi-Meerut Expressway जाम, इस रूट से निकलना होगा बेहतर
Jai Ho India App Panchang

टिकैत बोले कि बीजेपी समर्थक यहां आकर अपने किसी नेता का स्‍वागत करना चाह रहे थे। यह कैसे हो सकता है? यह मंच किसानों का है। किसान संयुक्‍त मोर्चे के बैनर तले एकजुट हैं। यदि किसी को यहां आना है तो भाजपा छोड़कर आ जाए। मोर्चे में शामिल हो जाए। उन्‍होंने कहा कि यहां यह दिखाने की कोशिश की गई कि हमने गाजीपुर के मंच पर भाजपा का झंडा फहरा दिया। यह बिल्‍कुल गलत बात है। ऐसे लोगों के बक्‍कल उधेड़ देंगे।

किसान नेता ने पुलिस पर भी गड़बड़ी फैलाने वालों को संरक्षण देने का आरोप लगाया है। कहा कि बीजेपी कार्यकर्ता पिछले तीन दिन से आ रहे हैं। पुलिस उन्हें संरक्षण दे रही है। पुलिस गुंडई छोड़ दे। बीजेपी की कार्यकर्ता न बने। उन्होंने कहा कि यह सारा कुछ पुलिस की मौजूदगी में हुआ है।

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि हमने नहीं चलाए पत्‍थर

किसान नेता राकेश टिकैत ने किसानों की ओर से पथराव के आरोपों का खंडन किया है। उन्‍होंने कहा कि किसी किसान ने पत्‍थर नहीं चलाए। उन्‍होंने लेकिन यदि अब कोई आया तो उसकी गाड़ी नहीं निकलने दी जाएगी। यहां पर गोला-लाठी का सामान तैयार है। यदि कोई मंच की तरफ आएगा तो कार्रवाई की जाएगी। उन्‍होंने भाजपा पर आंदोलन पर कब्‍जा करने की कोशिश का आरोप लगाया। उन्‍होंने चेतावनी देने के अंदाज में कहा कि यदि यह रोज-रोज होता रहा तो उनका इलाज कर दिया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि इस बारे में वह भी मामला दर्ज कराएंगे।

पढ़ें :- राकेश टिकैत ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से मांगी मदद, कहा-मोदी जी से मीटिंग में किसानों का मुद्दा उठाएं

जानें क्‍या हुआ था?

प्रत्‍यक्षदर्शियों ने बताया कि नवनियुक्त प्रदेश मंत्री अमित वाल्मीकि के स्‍वागत के लिए यूपी गेट पर आए भाजपा कार्यकर्ताओं की गाड़ियों का काफिला जब एक्सप्रेस-वे फ्लाईओवर पर दिल्ली से गाजियाबाद वाली लेन पर किसानों के मंच के सामने पहुंचा, तो वहां किसानों और भाजपाइयों में नोकझोंक हो गई। किसानों का आरोप है कि भाजपाइयों ने उन्हें अपशब्द कहे। जबकि वहीं भाजपाइयों का आरोप है कि किसानों ने अभद्रता की है। उनके खिलाफ नारेबाजी की जिससे हालात बिगड़े। इसके बाद मारपीट और गाड़ियों में तोड़फोड़ हुई। भाजपाई जहां एसएसपी से शिकायत कर रहे हैं वहीं किसान भी शिकायत की तैयारी कर रहे हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...