1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Rakesh Tikait बोले- बीजेपी बहुत खतरनाक पार्टी, यूपी चुनाव जीतने के लिए करवा सकती है किसी बड़े हिंदू नेता की हत्या

Rakesh Tikait बोले- बीजेपी बहुत खतरनाक पार्टी, यूपी चुनाव जीतने के लिए करवा सकती है किसी बड़े हिंदू नेता की हत्या

हरियाणा (Haryana ) के सिरसा (Sirsa)  में भारतीय किसान यूनियन (Bhartiya Kisan Union) के प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि बीजेपी  बहुत ही खतरनाक पार्टी है (BJP is a very dangerous party)। उन्होंने कहा कि बीजेपी (BJP) ने अपनी पार्टी के ही बड़े नेताओं को घरों में कैद कर दिया है। उनके घरों के बाहर पुलिस तैनात कर दी है। वह अब एक बयान देने के लायक भी नहीं रहे। राकेश टिकैत (Rakesh Tikait)  ने कहा कि यूपी चुनाव जीतने के लिए सरकार बड़े हिंदू नेता पर हमला कर हिंदू और मुस्लिम को आपस में लड़वाना चाहती है। आरएसएस (RSS)  से जुड़े लोग यह सब कुछ पहले से ही प्लान करके बैठे हैं। इसलिए बीजेपी (BJP) से बचना बहुत ही जरूरी है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। हरियाणा (Haryana ) के सिरसा (Sirsa)  में भारतीय किसान यूनियन (Bhartiya Kisan Union) के प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि बीजेपी  बहुत ही खतरनाक पार्टी है (BJP is a very dangerous party)। उन्होंने कहा कि बीजेपी (BJP) ने अपनी पार्टी के ही बड़े नेताओं को घरों में कैद कर दिया है। उनके घरों के बाहर पुलिस तैनात कर दी है। वह अब एक बयान देने के लायक भी नहीं रहे। राकेश टिकैत (Rakesh Tikait)  ने कहा कि यूपी चुनाव जीतने के लिए सरकार बड़े हिंदू नेता पर हमला कर हिंदू और मुस्लिम को आपस में लड़वाना चाहती है। आरएसएस (RSS)  से जुड़े लोग यह सब कुछ पहले से ही प्लान करके बैठे हैं। इसलिए बीजेपी (BJP) से बचना बहुत ही जरूरी है।

पढ़ें :- BJP झूठ बोलने में 'Gold Medal' जीत सकती है : राकेश टिकैत

राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि जब भी उत्तर प्रदेश में चुनाव (UP Elections) होंगे। किसी बड़े हिंदू नेता की हत्या होगी। उन्होंने कहा कि बच के रहना, ये आरएसएस (RSS) के लोग आपकी हत्या करवाने का काम करेंगे। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड चुनाव (Uttarakhand elections) में फिर हिंदू-मुस्लिम करवाएंगे। किसी बड़े हिंदू नेता की हत्या करवा के ये चुनाव जीतना चाहते हैं।

टिकैत ने कहा कि किसानों की फसलों के भाव वह लोग बड़े भवनों में बैठकर तय करते है, जिन्हें जमीनी हकीकत की जानकारी तक नहीं है। किसान की फसलों के भाव बैलों द्वारा 160 दिन खेत में काम को जोड़कर तय की जाती है। जबकि 365 दिन बैलों के संभालने और उन्हें खिलाने के दिनों को नहीं जोड़ा जाता। जब किसान का अनाज मंडी में पहुंचता है तो व्यापारी माल खराब होने की जानकारी दे उसका सस्ता दाम देते है और वहीं अनाज आटा बनकर जब दुकानों में पहुंचता है। तो वह तीन से चार गुना बढ़ जाता है। दिल्ली को किसानों ने चारों तरफ से घेरा हुआ है।

दिनभर अलर्ट पर रहा सिरसा प्रशासन(Sirsa Administration)

सिरसा में किसान नेता राकेश टिकैत की जनसभा को लेकर जिला प्रशासन दिनभर अलर्ट रहा। पुलिस की निगरानी में जनसभा हुई और किसी भी तरह की अनहोनी स्थिति से निपटने के लिए आरएएफ की एक कंपनी भी तैनात की गई। 200 से ज्यादा पुलिस कर्मचारियों को तैनात किया गया। ट्रैफिक व्यवस्था बनाए रखने के लिए रूट भी डायवर्ट करना पड़ा। यहां संयुक्त किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत ने दवाखाना का उद्घाटन किया। दोपहर के डेढ़ बजे मुख्य अतिथि राकेश टिकैत कार्यक्रम में पहुंचे।

पढ़ें :- 'दो कौड़ी' वाले बयान पर राकेश टिकैत बोले- "उनका बेटा एक साल से जेल में है इसलिए गुस्से में है, हम किसी की जुबान बंद नहीं कर सकते

किसान नेता राकेश टिकैत ने आधे घंटे के भाषण के दौरान सरकार की नीतियों पर निशाना साधा और करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज की कड़े शब्दों ने निंदा की। उन्होंने कहा कि देश में तालिबानी मिलने शुरू हो चुके हैं। तालिबान का कमांडर करनाल में मिला है और उनके साथियों की तलाश करना बाकी है। उन्होंने कहा कि किसानों का आंदोलन लगातार जारी रहेगा। किसान अपने ट्रैक्टरों पर लोहे के एंगल लगवाकर तैयार रखे। पूरे देश में किसानों के ट्रैक्टरों की चर्चा होगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...