1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Rakesh Tikait बोले- मंत्री अजय मिश्रा का इस्‍तीफा और 12 अक्‍टूबर तक दोषी गिरफ्तारी नहीं हुए तो…

Rakesh Tikait बोले- मंत्री अजय मिश्रा का इस्‍तीफा और 12 अक्‍टूबर तक दोषी गिरफ्तारी नहीं हुए तो…

Lakhimpur Kheri Violence : लखीमपुर हिंसा मामले में भारतीय किसान यूनियन (Bharatiya Kisan Union) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने बड़ी चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि यदि 12 तारीख तक गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा का इस्तीफा और दोषियों की गिरफ्तारी नहीं होती, तो किसान देश भर में आंदोलन करेंगे।राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने यह बात गुरुवार को रामपुर में किसानों के साथ मीटिंग करने के दौरान कही।

By संतोष सिंह 
Updated Date

रामपुर। Lakhimpur Kheri Violence : लखीमपुर हिंसा मामले में भारतीय किसान यूनियन (Bharatiya Kisan Union) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने बड़ी चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि यदि 12 तारीख तक गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा का इस्तीफा और दोषियों की गिरफ्तारी नहीं होती, तो किसान देश भर में आंदोलन करेंगे।

पढ़ें :- भाकियू में टूट के बाद ​बोले राकेश टिकैत, सरकारों का काम होता है फूट डालना, हमारा धर्म है किसानों की आवाज को और बुलंद करना

राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने यह बात गुरुवार को रामपुर में किसानों के साथ मीटिंग करने के दौरान कही। बता दें कि 3 अक्टूबर को यूपी में नेपाल बॉर्डर के ज़िले लखीमपुर खीरी के तिकुनिया इलाके में किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी गयी थी, जिसमें चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी। घटना से नाराज़ किसानों ने मरने वाले किसानों का शव सड़क पर रख कर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया था।

4 अक्टूबर को सरकार से हुई समझौता वार्ता में सरकार ने मरने वाले हर किसान के परिवार को 45 लाख रुपये और घायलों को 10 लाख रुपये की मदद का एलान किया था। इस घटना की न्यायिक जांच का भी वादा किया था। किसान नेताओं की मांग थी कि इस कांड के मुख्य आरोपी गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा (Minister of State for Home Ajay Mishra) के बेटे आशीष मिश्रा (Ashish Mishra) को गिरफ्तार किया जाए। तब प्रशासन ने कहा था कि परिवार वालों की तहरीर पर मुक़दमा लिख लिया गया है और आगे की कानूनी प्रक्रिया पूरी की जाएगी। हालांकि अब सुप्रीम कोर्ट के सरकार से यह पूछने पर की इस मामले में कितनी गिरफ्तारी हुई है, सरकार के ऊपर गिरफ्तारी का भी दबाव है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...