राखी सावंत बोली, नहीं पता था कि मेरे खिलाफ कोई मुकदमा भी है

Rakhi Sawant Boli Nahi Pata Tha Ki Mere Khilaf Koi Mukadma Bhi Hai

मुंबई: अक्सर विवाद और चर्चा में रहने वाली अभिनेत्री राखी सावंत ने गुरुवार को दावा किया कि उन्हें अपने खिलाफ किसी मुकदमे की जानकारी ही नहीं थी। राखी पर पिछले दिनों महर्षि वाल्मिकी को लेकर की गई कथित आपत्तिजनक टिप्पणी के चलते यह मुकदमा किया गया है।

राखी ने मीडिया से कहा, “मुझे मीडिया से पता चला कि मैं गिरफ्तार की गई हूं। मेरे खिलाफ एक मुकादमा दर्ज किया गया था और मेरा गिरफ्तारी वारंट निकला था। मैं नहीं जानती कि पंजाब पुलिस मेरी तलाश कर रही है।” अभिनेत्री ने कहा “मैं आश्चर्यचकित हूं। मैं कुछ नहीं जानती। पुलिस मेरे घर पर नहीं आई। मुझे किसी तरह का वारंट नहीं मिला। मैं तो यह भी नहीं जानती की मेरे खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज हुआ है।”




उन्होंने कहा, “यदि मैं दोषी हूं, तो मैं जेल जाने के लिए तैयार हूं।” शिकायतकर्ता ने राखी पर वाल्मिकी समुदाय की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया है। दो दिन पहले पंजाब पुलिस की एक टीम राखी को गिरफ्तार करने मुंबई उनके घर पहुंची थी, लेकिन पुलिस दिए गए पते पर राखी को खोजने में नाकाम रही और वापस लौट आई। पुलिस अब 10 अप्रैल को इस मामले पर अपनी रिपोर्ट न्यायालय को सौंपेगी।

राखी ने मामले में अपना बचाव करने का फैसला किया है। राखी ने कहा कि जब उन्होंने इस मामले के बारे में सुना तब वह बंगूर नगर और ओशीवारा पुलिस स्टेशन गईं और वारंट के बारे में पूछा। हालांकि पुलिस ने उनके खिलाफ किसी तरह का वारंट जारी होने से इंकार कर दिया। राखी ने भी वाल्मिकी समुदाय की धार्मिक भावनाओं के आहत होने पर माफी मांग ली है।




अभिनेत्री ने कहा “मैंने केवल वाल्मिकी जी का उदाहरण दिया था, जो मैं बचपन से पढ़ती आ रही हूं.. मैं किसी की भावनाओं को आहत करना नहीं चाहती थी।” राखी ने दावा किया कि जब से उन्होंने मीका सिंह और वाल्मिकी में तुलना की है तब से मुझे धमकियां मिल रही हैं।

मुंबई: अक्सर विवाद और चर्चा में रहने वाली अभिनेत्री राखी सावंत ने गुरुवार को दावा किया कि उन्हें अपने खिलाफ किसी मुकदमे की जानकारी ही नहीं थी। राखी पर पिछले दिनों महर्षि वाल्मिकी को लेकर की गई कथित आपत्तिजनक टिप्पणी के चलते यह मुकदमा किया गया है। राखी ने मीडिया से कहा, "मुझे मीडिया से पता चला कि मैं गिरफ्तार की गई हूं। मेरे खिलाफ एक मुकादमा दर्ज किया गया था और मेरा गिरफ्तारी वारंट निकला था। मैं नहीं जानती…