1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. रक्षा बंधन रेसिपी स्पेशल: राखी पर बेसन के लड्डू, बर्फी रोल, घेवर का स्वाद लें

रक्षा बंधन रेसिपी स्पेशल: राखी पर बेसन के लड्डू, बर्फी रोल, घेवर का स्वाद लें

हैप्पी रक्षा बंधन 2021: भाई-बहनों के अटूट बंधन का जश्न मनाएं, जो गुलाब के लड्डू, बर्फी रोल और घेवर की इन मिष्ठान व्यंजनों के साथ जिसे राखी पर घर पर आसानी से बनाया जा सकता है

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

शब्द रक्षा का शाब्दिक अर्थ है ‘सुरक्षा’, ‘बंधन’ का अर्थ है ‘बंधन’ और के त्योहार के लिए अनुवाद रक्खा बंधन इस अटूट बंधन है कि हमेशा के लिए एक वादे के साथ भाई बहन के बीच मौजूद है रक्षा के लिए के एक उत्सव है और क्या कोई फर्क नहीं पड़ता है परिस्थितियों और बिना शर्त तरीके से जो केवल भाई-बहनों का अभिन्न अंग है। यह सुरक्षा का एक समय-सम्मानित अनुष्ठान है, सबसे बड़ा उपहार जो भाई-बहन एक-दूसरे को देते हैं और भाई-बहनों के बीच मौजूद शुद्ध बंधन का जश्न मनाते हैं।

पढ़ें :- नवरात्रि 2021: इस त्योहारी मौसम में अपने फास्टिंग के लिए आज़माएँ इन 3 व्रत व्यंजनों को

जैसा कि भारत भाई-बहनों के बीच सुरक्षा और प्रेम के इस त्योहार को चिह्नित करता है, क्यों न आप राखी पर कुछ गुणवत्तापूर्ण समय बिताते हुए लड्डू, बर्फी रोल और घेवर का स्वाद एक साथ लें?

नीचे दिए गए लड्डू, बर्फी रोल और घेवर की मिष्ठान व्यंजनों के साथ भाई-बहनों के अटूट बंधन का जश्न मनाएं, जिसे घर पर आसानी से बनाया जा सकता है।

बेसन के लड्डू

सामग्री :
शुद्ध घी आवश्‍यकतानुसार, 500 ग्राम बेसन (मोटा/डेढ़ नंबर) , 400 ग्राम शकर का बूरा, 1/4 कप मेवे की कतरन, 1/4 कप नारि‍यल का बूरा ।

पढ़ें :- आज ही ट्राई करें यह आसान, हेल्दी बर्गर रेसिपी

वि‍धि ‍:
एक कड़ाही में घी गरम कर लें। अब बेसन को छानकर घी में धीमी आंच पर भून लें। सौंधी-सौंधी खुशबू आने के बाद आंच से उतार लें। बेसन गुनगुना होने पर नारि‍यल का बूरा और मेवे की कतरन मिला दें। अब इसमें शकर का बूरा डालकर अच्‍छी तरह मि‍लाएं। जब मि‍श्रण एक-सा हो जाए तो अपनी पसंद के आकार के लड्डू बना लें।

सामग्री :

गुलाब पत्ती, चुटकी भर पीला रंग, कटे हुए पिस्ता व बादाम, डेढ़ कटोरी मैदा, दो कप पानी, डेढ़ बड़ा चम्मच जमा गाढ़ा घी, डेढ़ कप बर्फ का ठंडा पानी, घी, सव्वा दो कटोरी शकर।

विधि :
सबसे पहले जमा हुआ गाढ़ा घी लेकर एक बर्तन में बर्फ के ठंडे पानी के साथ खूब फेंटिए। करीबन 5 मिनट बाद घी में से पानी बाहर निकल जाता है। अब पानी निथारकर इसमें थोड़ा-थोड़ा कर मैदा मिलाकर फेंटिए। जब भजिए से भी पतला घोल तैयार हो जाए तब छोटी कड़ाही में मटका रखने वाली रिंग रखें। इसमें घी डालकर गर्म करें। जब घी अच्छी तरह गर्म हो जाए तब रिंग के बीच में धीरे-धीरे धार-सी बनाते हुए मैदे का घोल छोड़ें। हल्का बादामी होने लगे, तब सलाई की सहायता से घेवर उठा लीजिए। घेवर पर 3-4 बार डेढ़ तार की गर्म चाशनी डालें और तैयार घेवर को मेवे से सजाकर पारंपारिक व्यंजन पेश करें।

बर्फी

पढ़ें :- FSSAI ने किया फैसला भारत में पैकेटों के सामने होगा खाद्य सुरक्षा लेबल

सामग्री :
आधा चम्मच इलायची पावडर, मीठा पीला रंग, हरा रंग, 500 ग्राम फ्रेश मावा, 450 ग्राम शकर, 150 ग्राम फ्रेश पनीर।

विधि :
सर्वप्रथम खोया और पनीर को एक थाली में कद्दूकस करके रख लें। अब इसमें शकर मिलाएं, तत्पश्चात कड़ाही में मध्यम आंच पर पकने दें। मिश्रण गाढ़ा होने पर वेनिला एसेंस और इलायची पावडर डालकर मिलाएं तथा आंच बंद कर दें। अब तैयार मिश्रण को 3 भागों में बराबर बांट लें। पहले वाले भाग को सफेद रखें। दूसरे भाग में मीठा पीला व तीसरे भाग में हरा रंग मिला लें। हल्के हाथ से मोटा बेल लें और सबसे नीचे हरा, फिर सफेद और ऊपर पीले रंग को जमा दें और हल्के से हाथ से दबाकर वरक चिपका दें। अब इसको चौकोर शेप या छोटे-छोटे साइज में काटकर नए फ्लेवर में तैयार तिरंगी बर्फी पेश करें।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...