सपा सुप्रीमों ने की रामगोपाल को पार्टी में वापस लेने की घोषणा, रद्द किया निष्कासन

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने गुरूवार को पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव का छह साल के लिए किया गया निष्कासन रद्द करते हुए उन्हें पार्टी में वापस लेने की घोषणा की है। राम गोपाल को पार्टी में वापस लेने के बाद कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह दिख रहा है।

Ram Gopal Yadav Reinstated In Samajwadi Party :





आपको बता दें कि अभी हाल ही में शिवपाल अखिलेश के अन्तर्कलह के चलते सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह यादव ने रामगोपाल को पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया था। अब उन्होंने उनका निष्कासन रद्द करते हुए उनकी पार्टी में वापसी की घोषणा की है।




गौरतलब है कि बुधवार को राज्यसभा में प्रो. रामगोपाल यादव ने ही सपा का पक्ष रखा था। इसके बाद से ही इस बात की अटकलें लगाई जा रही थी कि जल्द ही उनकी वापसी सपा में हो सकती है। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता डॉ. सी.पी. राय ने कहा कि पार्टी के भीतर मतभेद होते रहते हैं। लेकिन अब नेताजी ने उनकी वापसी कर दी है तो चुनाव से पहले सपा को और मजबूती मिलेगी। रामगोपाल यादव हमेशा ही पार्टी के एक स्तंभ के रूप में काम करते रहे हैं और अपने समस्त पदों के साथ काम करते रहेंगे।

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने गुरूवार को पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव का छह साल के लिए किया गया निष्कासन रद्द करते हुए उन्हें पार्टी में वापस लेने की घोषणा की है। राम गोपाल को पार्टी में वापस लेने के बाद कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह दिख रहा है। आपको बता दें कि अभी हाल ही में शिवपाल अखिलेश के अन्तर्कलह के चलते सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह यादव ने रामगोपाल को पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया था। अब उन्होंने उनका निष्कासन रद्द करते हुए उनकी पार्टी में वापसी की घोषणा की है। गौरतलब है कि बुधवार को राज्यसभा में प्रो. रामगोपाल यादव ने ही सपा का पक्ष रखा था। इसके बाद से ही इस बात की अटकलें लगाई जा रही थी कि जल्द ही उनकी वापसी सपा में हो सकती है। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता डॉ. सी.पी. राय ने कहा कि पार्टी के भीतर मतभेद होते रहते हैं। लेकिन अब नेताजी ने उनकी वापसी कर दी है तो चुनाव से पहले सपा को और मजबूती मिलेगी। रामगोपाल यादव हमेशा ही पार्टी के एक स्तंभ के रूप में काम करते रहे हैं और अपने समस्त पदों के साथ काम करते रहेंगे।