VHP ने राम मंदिर निर्माण को लेकर बुलाई बैठक, कहा- 18 महीने में शुरू होगा काम

ram-mandir
VHP ने राम मंदिर निर्माण को लेकर बुलाई बैठक, कहा- 18 महीने में शुरू होगा काम

नई दिल्ली। अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का मुद्दा एक बार फिर गर्म हो गया है। मंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिंदू परिषद (VHP) अब ऐक्शन मोड में आ गया है। परिषद ने इस मुद्दे पर चर्चा के लिए इस महीने के आखिर में अपने शीर्ष नेताओं की बैठक बुलाई है। वीएचपी का दावा है कि इस परियोजना पर डेढ़ साल में काम शुरू हो जाएगा।

Ram Mandir Vhp Called Up A Meeting Said Construction Will Start In 18 Months :

विहिप के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने स्पष्ट किया कि उनका संगठन राम मंदिर निर्माण पर ‘अनिश्चितकाल तक’ इंतजार नहीं करेगा और संगठन ने NDA सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले महीने के भीतर ही नरेंद्र मोदी सरकार को उनके वादे के बारे में ‘याद दिलाने’ का फैसला किया है।

उन्होंने कहा, ‘एक बात स्पष्ट है, विहिप दो मुद्दों पर समझौता नहीं करेगी – पहला, भगवान राम के जन्मस्थान पर सिर्फ मंदिर बनेगा और दूसरा, अयोध्या की सांस्कृतिक सीमाओं के भीतर कोई मस्जिद नहीं हो सकती। कुमार ने कहा कि विहिप की ‘मार्गदर्शक समिति’ इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए 19-20 जून को हरिद्वार में बैठक करेगी और एक प्रस्ताव पारित करेगी जो प्रधानमंत्री मोदी को सौंपा जाएगा।

वीएचपी नेता ने कहा, ‘हम एक प्रस्ताव पारित करेंगे और इसे प्रधानमंत्री को देंगे। हम उन्हें याद दिलाएंगे कि आपके घोषणा पत्र में राम मंदिर निर्माण का वादा किया गया है।’

नई दिल्ली। अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का मुद्दा एक बार फिर गर्म हो गया है। मंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिंदू परिषद (VHP) अब ऐक्शन मोड में आ गया है। परिषद ने इस मुद्दे पर चर्चा के लिए इस महीने के आखिर में अपने शीर्ष नेताओं की बैठक बुलाई है। वीएचपी का दावा है कि इस परियोजना पर डेढ़ साल में काम शुरू हो जाएगा। विहिप के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने स्पष्ट किया कि उनका संगठन राम मंदिर निर्माण पर 'अनिश्चितकाल तक' इंतजार नहीं करेगा और संगठन ने NDA सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले महीने के भीतर ही नरेंद्र मोदी सरकार को उनके वादे के बारे में 'याद दिलाने' का फैसला किया है। उन्होंने कहा, ‘एक बात स्पष्ट है, विहिप दो मुद्दों पर समझौता नहीं करेगी - पहला, भगवान राम के जन्मस्थान पर सिर्फ मंदिर बनेगा और दूसरा, अयोध्या की सांस्कृतिक सीमाओं के भीतर कोई मस्जिद नहीं हो सकती। कुमार ने कहा कि विहिप की 'मार्गदर्शक समिति' इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए 19-20 जून को हरिद्वार में बैठक करेगी और एक प्रस्ताव पारित करेगी जो प्रधानमंत्री मोदी को सौंपा जाएगा। वीएचपी नेता ने कहा, ‘हम एक प्रस्ताव पारित करेंगे और इसे प्रधानमंत्री को देंगे। हम उन्हें याद दिलाएंगे कि आपके घोषणा पत्र में राम मंदिर निर्माण का वादा किया गया है।’