मीडिया की पंचकूला रिपोर्टिंग पर स्मृति ईरानी ने उठाया सवाल, दी ऐसी नसीहत

नई दिल्ली। शुक्रवार को पंचकूला में राम रहीम के समर्थकों द्वारा किए उपद्रव में जहां 30 लोगों की मौत हो गई। पंचकूला की सीबीआई अदालत ने जैसे ही दोषी ठहराया तो राम रहीम के समर्थक गुंडागर्दी पर उतर आए। जगह-जगह आगजनी हुई। मीडिया को सबसे ज्यादा निशाना बनाया गया। कई पत्रकार घायल हो गए। वहीं उसी उपद्रव की वीडियो को टीवी पर दिखाने को लेकर केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने मीडिया को ही निशाना बना डाला है।

स्मृति ईरानी ने इस पूरे घटना क्रम की कड़ी निंदा की इसके साथ ही पत्रकारों द्वारा टीवी प्रसारण को लेकर भी उन्होंने मीडिया वालों को सलाह दे डाली। स्मृति ईरानी ने पंचकूला हिंसा के दौरान मीडिया पर हुए हमले की निंदा की है। उन्होंने कहा है कि चैनलों को घबराहट, तनाव और अनुचित डर पैदा करने वाली खबरें नहीं दिखानी चाहिए। ईरानी ने यह नसीहत ट्वीट के जरिए दी है और मीडिया पर हमले की निंदा भी ट्वीट के जरिए ही की है।

{ यह भी पढ़ें:- आसाराम-राम रहीम के बाद अब एक और बलात्कारी बाबा }

आपको बता दें कि सीबीआई कोर्ट द्वारा डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को बलात्कार के मामले में दोषी करार दिया गया है। इसके बाद राम रहीम के समर्थक भड़क गए और उन्होंने पंचकूला में आगजनी की। राम रहीम के समर्थकों ने मीडिया के लोगों को भी मारा और उनकी गाड़ियां तोड़ दीं। इतना ही नहीं, उग्र भीड़ ने संपत्ति को भी भारी नुकसान पहुंचा।