1. हिन्दी समाचार
  2. शिवसेना को आदित्य ठाकरे के लिए उपमुख्यमंत्री का पद स्वीकार कर लेना चाहिए: रामदास अठावले

शिवसेना को आदित्य ठाकरे के लिए उपमुख्यमंत्री का पद स्वीकार कर लेना चाहिए: रामदास अठावले

By रवि तिवारी 
Updated Date

Ramdas Athawale On Deputy Cm Aditya Thakre Udhav Thakre Bjp

मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी -शिवसेना की जीत के बाद राज्य में मुख्यमंत्री और उप- मुख्यमंत्री पद की चर्चा जोरों पर है। इसी बीच केंद्रीय मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (RPI) प्रमुख रामदास आठवले ने भाजपा पर राज्य में मुख्यमंत्री पद के लिए हो रही रार को लेकर कटाक्ष किया है।

पढ़ें :- WTC Final : साउथैम्पटन में टीम इंडिया पहली पारी में 217 पर ऑल आउट, जैमिसन ने झटके पांच विकेट

रामदास अठावले ने कहा कि शिवसेना को 5 साल के लिए आदित्य ठाकरे के लिए उपमुख्यमंत्री का पद स्वीकार कर लेना चाहिए। मुझे नहीं लगता कि भाजपा ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री बनाए जाने की बात पर सहमत होगी। इसलिए शिवसेना को देवेंद्र फडणवीस को ही मुख्यमंत्री बनने देना चाहिए।

अठावले ने कहा, ‘‘मेरा फॉर्मूला है कि भाजपा और शिवसेना साथ आएं, क्योंकि जनता का जनादेश उनके साथ है। निश्चित रूप से, एनडीए को उतनी सीटें नहीं मिलीं, जितनी कि अपेक्षा की जा रही थी, लेकिन बहुमत है। मुख्यमंत्री पद का दावा निश्चित रूप से भाजपा का है। शिवसेना का कहना है कि उन्हें केवल 124 सीटें दी गई थीं। उन्हें केंद्र में मंत्री पद भी दिया जा सकता था।’’
 
केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘मैं दोनों पक्षों से बात करूंगा और बातचीत के जरिए इस मुद्दे को हल करने के लिए कहूंगा। मुझे उम्मीद है कि अगले चार-पांच दिनों में फैसला हो जाएगा।’’ महाराष्ट्र विधानसभा में भाजपा-शिवसेना गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिला है। भाजपा के 105 और शिवसेना के 56 विधायक हैं।

फडणवीस ने कहा- अगले 5 साल भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार चलेगी

26 अक्टूबर को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने साफ कर दिया कि राज्य में अगले पांच साल भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार चलेगी। उन्होंने कहा कि हम चुनाव में गठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरे हैं। हम राज्य को भाजपा के नेतृत्व में स्थिर गठबंधन की सरकार देंगे। फडणवीस का यह बयान ऐसे समय पर आया था जब शिवसेना के कुछ नेताओं ने मांग की है कि राज्य में ढाई साल शिवसेना और ढाई साल भाजपा का मुख्यमंत्री बने।

पढ़ें :- खुशखबरी : देश में अब मुफ्त टीकाकरण, Co-Win पर पंजीकरण की अनिवार्य खत्म,न करें देर

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X