1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. रद्द नहीं होंगे 12वीं बोर्ड परीक्षा, केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने 25 मई तक राज्यों से मांगे लिखित सुझाव

रद्द नहीं होंगे 12वीं बोर्ड परीक्षा, केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने 25 मई तक राज्यों से मांगे लिखित सुझाव

देश में 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं और प्रवेश परीक्षाओं को लेकर चल रही उच्चस्तरीय बैठक खत्म हो गई है। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों से 25 मई तक लिखित में सुझाव मांगे हैं।केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने ट्वीट कर कहा कि सभी राज्यों से लिखित में अपने सुझाव 25 मई तक भेजने का आग्रह किया गया है। उन्होंने कहा कि यह उच्चस्तरीय बैठक बहुत ही उपयोगी रही क्योंकि इसमें मौजूदा परिस्थियों की समीक्षा की गई है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। देश में 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं और प्रवेश परीक्षाओं को लेकर चल रही उच्चस्तरीय बैठक खत्म हो गई है। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों से 25 मई तक लिखित में सुझाव मांगे हैं।

पढ़ें :- उप्र माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद की पूर्व मध्यमा से उत्तर मध्यमा स्तर तक की परीक्षाओं का कैलेण्डर जारी

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने ट्वीट कर कहा कि सभी राज्यों से लिखित में अपने सुझाव 25 मई तक भेजने का आग्रह किया गया है। उन्होंने कहा कि यह उच्चस्तरीय बैठक बहुत ही उपयोगी रही क्योंकि इसमें मौजूदा परिस्थियों की समीक्षा की गई है।

पढ़ें :- राहुल गांधी ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा गारंटी के लिए की ये मांग

निशंक ने लिखा कि मुझे पूरा भरोसा है कि हम सामूहिक निर्णय के माध्यम से जल्द ही कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाओं के बारे में अपना अंतिम फैसला करेंगे और छात्रों व अभिवावकों के मन में व्याप्त अनिश्चितता को दूर कर पाएंगे।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों के बीच परीक्षाओं के आयोजन की जिद को नासमझी बताया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के साथ मीटिंग में आज मांग रखी कि परीक्षा से पहले 12वीं के सभी बच्चों के लिए वैक्सीन की व्यवस्था करें। बच्चों की सुरक्षा से खिलवाड़ कर परीक्षा का आयोजन करवाने की जिद बहुत बड़ी गलती और नासमझी साबित होगी।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से अगर वैक्सीन उपलब्ध करा दी जाए तो राज्य सरकारें 1 सप्ताह में 12वीं के सभी विद्यार्थियों व टीचर्स को वैक्सीन लगवा दें। दिल्ली में तो हम अधिकतम 2 दिन में ही 12वीं के सभी विद्यार्थियों व सभी शिक्षकों को वैक्सीन लगाने का काम पूरा कर लेंगे।

महाराष्ट्र की शिक्षा मंत्री ने भी सुरक्षित परीक्षाओं के आयोजन में सहमति जताई है। वहीं, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने केंद्र से सीबीएसई बोर्ड कक्षा 12वीं की परीक्षा तिथियां देश भर में कोविड-19 की स्थिति पर विचार करने के बाद ही तय करने को कहा है।

इस बीच, मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा 14 मई को  मण्डल की हाईस्कूल परीक्षा का आयोजन नहीं किए जाने संबंधी तथा आंतरिक एवं प्रायोगिक परीक्षा की ओएमआर शीट्स भरने संबंधी विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए है।

पढ़ें :- UP News: भाजपा सरकार पर अखिलेश यादव ने साधा निशाना, कहा-महंगाई चरम सीमा पर है, अर्थव्यवस्था को खोखला कर दिया

वहीं, छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीजीबीएसई) ने 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं का शेड्यूल जारी कर दिया है। नवीनतम अधिसूचना के अनुसार, छात्रों को अपने संबंधित केंद्रों से प्रश्न पत्र और उत्तर पुस्तिकाएं प्राप्त होंगी और प्रश्न पत्र प्राप्त होने के 05 दिनों के भीतर उत्तर पुस्तिकाएं जमा करनी होंगी। जबकि गोवा सरकार की ओर से मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत शाम पांच बजे बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन को लेकर अहम घोषणा करेंगे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...