रामनवमी पर मंदिरों में लगा भक्तों का तांता, गूंज रहे ‘श्रीराम’ के उद्घोष

पटना: बिहार में पटना सहित राज्य के सभी मंदिरों में बुधवार को रामनवमी के अवसर पर श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। श्रद्धालु ‘जय श्रीराम’ व ‘जय हनुमान’ के उद्घोष कर रहे हैं। रामनवमी को लेकर राजधानी पटना की सभी सड़कें महावीरी ध्वज, बैनर, रामनाम पताका और तोरण द्वार से सजे नजर आ रहे हैं। पूरा इलाका मंगलवार की रात से ही राममय हो गया है।




पटना जंक्शन के समीप स्थित प्रसिद्ध महावीर मंदिर में रामनवमी को लेकर विशेष व्यवस्था की गई है। महावीर मंदिर का पट बुधवार तड़के दो बजे ही खोल दिया गया। सुबह से ही मंदिर में भक्तों का तांता लगा हुआ है। यहां पूजा करने के लिए लोग मंगलवार की रात से ही पंक्तिबद्ध होकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। मंदिर प्रशासन को रामनवमी के दिन यहां कम से कम तीन से चार लाख श्रद्धालुओं के मंदिर में पहुंचने की उम्मीद है। रात 12 बजे तक मंदिर का पट खुला रहेगा। श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए इस वर्ष पुजारियों की संख्या भी बढ़ा दी गई है।

पटना में इस वर्ष रामनवमी के मौके पर शाम को शोभायात्रा निकाली जाएगी। यहां के 27 स्थलों से रामनवमी की शोभायात्रा निकाली जाएगी। सभी शोभायात्राएं डाकबंगला चौराहे पर रात 10 बजे तक पहुंचेंगी, जहां इन शोभायात्राओं का स्वागत किया जाएगा। श्री रामनवमी शोभायात्रा अभिनंदन समिति के संयोजक और विधायक नितिन नवीन ने बताया कि इस समारोह में राज्यपाल रामनाथ कोविंद, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ साध्वी ऋतंभरा, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, रामकृपाल यादव सहित कई सांसद और नेता शामिल होंगे।




रामनवमी को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं। राजधानी के सभी मुख्य मंदिरों में सीसीटीवी कैमरे के जरिये निगरानी की जा रही है और जगह-जगह पर अतिरिक्त पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने बताया रामनवमी के मद्देनजर पुलिस गश्त भी बढ़ाई गई है और शहर की परिवहन व्यवस्था में भी परिवर्तन किया गया है। राज्य के अन्य क्षेत्रों में भी रामनवमी को लेकर श्रद्धालुओं में उत्साह देखा जा रहा है। पूरे राज्य में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।