HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सपा परिवार के करीबी रामफल वाल्मीकि का सैफई ग्राम पंचायत प्रधान पद पर कब्जा

सपा परिवार के करीबी रामफल वाल्मीकि का सैफई ग्राम पंचायत प्रधान पद पर कब्जा

यूपी पंचायत चुनाव में सैफई में पंचायत चुनाव में ऐसा पहला अवसर है। जब सपा परिवार के समर्थित प्रत्याशी के विरुद्ध किसी अन्य ने पर्चा भरा था, अभी तक 1971 से मुलायम के मित्र दर्शन सिंह निर्विरोध प्रधान बनते आये थे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

इटावा। यूपी पंचायत चुनाव में सैफई में पंचायत चुनाव में ऐसा पहला अवसर है। जब सपा परिवार के समर्थित प्रत्याशी के विरुद्ध किसी अन्य ने पर्चा भरा था, अभी तक 1971 से मुलायम के मित्र दर्शन सिंह निर्विरोध प्रधान बनते आये थे। दर्शन सिंह की मौत के बाद इस चुनाव में सैफई की सीट आरक्षित हो गई थी, जिसके बाद मुलायम सिंह यादव के करीबी रामफल वाल्मीकि को सपा परिवार के तरफ से सैफई प्रधान पद का पर्चा भरवाया गया था, लेकिन रामफल के विरोध में एक अन्य प्रत्याशी विनीता देवी के पर्चा भर देने से सैफई प्रधान पद को लेकर राजनीति गरमा गई थी।

पढ़ें :- दुकानों पर नाम लिखने से बढ़ेगा भाईचारा, विपक्ष कर रहा विभाजनकारी राजनीति : स्वाती सिंह

पंचायत चुनाव में रामफल बाल्मिक को 3877 मत मिले हैं। वहीं विनीता देवी को मात्र 15 वोट ही मिले। कुछ ही समय में रामफल अमिताभ बच्चन इंटर कॉलेज में प्रमाण पत्र लेने के लिए पहुंचेंगे।

अजीतमल ब्लॉक की चार पंचायतों के नतीजे घोषित

औरैया की अजीतमल ब्लॉक की चार पंचायतों के नतीजे आ गये। जिसमें ग्राम पंचायत बडेरा में अनुज कुमार सिंह ने 352 मत मिले। जबकि विपक्षी अभिषेक कुमार 339 मत मिले। अनुज कुमार को 13 मतों से विजयी घोषित किया गया। ग्राम पंचायत दरवतपुर में अनुपम को 418 जबकि विपक्षी रानी को 397 मत मिले। अनुपम को 21 वोट से विजयी घोषित किया गया। ग्राम पंचायत बीसलपुर में राज कुमार को 649 जबकि विपक्षी जगदीश सिंह को 263 मत मिले। राज कुमार को 386 वोटो से विजयी घोषित किया गया। ग्राम पंचायत हालेपुर में अरविंद पाल को 249 और विपक्षी भारत सिंह को 183 मत मिले। भारत सिंह को 66 मत को विजय घोषित किया गया।

पढ़ें :- कांवड़ यात्रा पर योगी सरकार के आदेश पर बढ़ा विवाद, सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई कल
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...