1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Rampur Lok Sabha Bypolls : आजम खान ने असीम राज़ा पर खेला दांव, जानें क्यूं पत्नी की जगह इन्हें दिया टिकट

Rampur Lok Sabha Bypolls : आजम खान ने असीम राज़ा पर खेला दांव, जानें क्यूं पत्नी की जगह इन्हें दिया टिकट

Rampur Lok Sabha Bypolls : समाजवादी पार्टी (सपा) ने रामपुर लोकसभा उपचुनाव में उम्मीदवारी को लेकर तमाम अटकलबाजियों पर सोमवार को विराम लगा दिया है। सपा ने नामांकन के अंतिम दिन रामपुर से प्रत्याशी का ऐलान कर दिया है। बता दें कि इससे पहले जानकारी आई थी कि सपा आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा को मैदान में उतार सकती है। तंजीम फातिमा ने खराब सेहत का हवाला देकर चुनाव लड़ने से मना कर दिया था। ऐसे में अब तक सपा से नाराज बताए जा रहे आजम खान ने ही उम्मीदवार के नाम की घोषणा की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Rampur Lok Sabha Bypolls : समाजवादी पार्टी (सपा) ने रामपुर लोकसभा उपचुनाव में उम्मीदवारी को लेकर तमाम अटकलबाजियों पर सोमवार को विराम लगा दिया है। सपा ने नामांकन के अंतिम दिन रामपुर से प्रत्याशी का ऐलान कर दिया है। बता दें कि इससे पहले जानकारी आई थी कि सपा आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा को मैदान में उतार सकती है। तंजीम फातिमा ने खराब सेहत का हवाला देकर चुनाव लड़ने से मना कर दिया था। ऐसे में अब तक सपा से नाराज बताए जा रहे आजम खान ने ही उम्मीदवार के नाम की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि कहा कि उनके पुराने साथी आसिम राजा चुनाव लड़ने जा रहे हैं। आजम खान ने आसिम के नाम का ऐलान करते हुए कहा कि इस जीत से वह सबकी तकलीफों का हिसाब लेना चाहते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि यदि आसिम हार गए तो उनकी मुश्किलें बढ़ जाएंगी।

पढ़ें :- Maharashtra Crisis Live : महाराष्ट्र में नई सरकार को लेकर हलचल तेज, फडणवीस के घर बैठक शुरू

आसिम राजा इस समय रामपुर शहर के सपा अध्यक्ष हैं। खुद आजम खान ने आसिम राजा के नाम का ऐलान करते हुए उन्हें अपना अजीज साथी और लंबा सियासी तजुर्बा रखने वाला बताया। उन्होंने कहा कि हम आसिम राजा को लड़ाना चाहते हैं और आप सबकी तकलीफों का हिसाब लेना चाहते हैं।

आजम खान ने कहा कि बहुत लंबी मुद्दत के लिए यह चुनाव नहीं है। हम एक ऐसी मिशाल पेश करेंगे। उन्होंने कहा कि मैं पिछला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ता, लेकिन मुझे मालूम था कि कचहरी तक नहीं पहुचने दिया जाएगा, और चुनाव निर्विरोध हो जाएगा। यह विधानसभा में आलम था जो दहशत थी और पुलिस का रोल था, जो यहां का इंतजामिया था, विधानसभा चुनाव में भी यह अंदाजा था। हमने आपके भरोसे पर खड़ा उतरने की कोशिश की है और दुआ करिए कि यह सिर मालिक के सिवा कहीं ना झुके। और इसके झुकने की नौबत आए तो यह सिर धर पर ना रहे।

आजम खान ने आसिम की जीत की अपील करते हुए कहा कि यदि जरा सी कोताही हुई तो मेरी श्याह रातें और श्याह हो जाएंगी

आजम खान ने आसिम की जीत की अपील करते हुए कहा कि यदि जरा सी कोताही हुई तो मेरी श्याह रातें और श्याह हो जाएंगी। मेरे लम्हे वर्षों में बदल जाएंगे। मेरी तकलीफ में इजाफा हो जाएगा। मेरा यकीन मेरा भरोसा टूट जाएगा। यदि मेरा भरोसा टूट गया तो मैं टूट जाऊंगा और मैं टूट गया तो बहुत कुछ टूट जाएगा। आज फिर तुम्हारा इम्तिहान है।

पढ़ें :- Udaipur Murder : कन्हैया लाल नृशंस हत्याकांड का असली खलनायक है नाजिम ? लेटर से हुआ खुलासा

बता दें कि 23 जून को इस सीट पर होने वाले चुनाव में समाजवादी पार्टी के किसी भी उम्मीदवार के लिए उनका समर्थन महत्वपूर्ण है। समाजवादी पार्टी के सबसे बड़े मुस्लिम नेताओं में से एक आजम खान कथित तौर पर अखिलेश यादव से नाराज थे, लेकिन ऑन रिकॉर्ड उन्होंने इससे इनकार किया। 27 महीने जेल में रहने के बाद हाल ही में उन्हें जमानत पर रिहा किया गया था।

आजम खान के दो करीबियों में है टक्कर

बीजेपी ने रामपुर से समाजवादी पार्टी के पूर्व एमएलसी और आजम खाम के करीबी माने जाने वाले ओबीसी नेता घनश्याम लोधी को टिकट दिया है। लोधी 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हो गए थे। रामपुर सीट पर बीएसपी और कांग्रेस उम्मीदवार नहीं उतार रहे हैं।  घनश्याम लोधी ने सोमवार को नामांकन दाखिल कर दिया है। वहीं, आसिम रजा राजा ने भी कर दिया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...