सोशल मीडिया पर वॉयरल हुआ रेप पीड़िता का वीडियो, पति ने बदनामी की बात कहकर छोड़ा साथ

जौनपुर। सोशल मीडिया इन दिनों हर समस्या के हल के रूप में देखा जाने लगा है। सरकार तक अपनी आवाज पहुंचानी हो या फिर सरकार को अपनी आवाज जनता तक सब सोशल मीडिया का सहारा ले रहे हैं। ऐसा ही कुछ जौनपुर जिले में हुआ जहां 4 दिनों से थाने के चक्कर काट रही रेप पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लेते हुए उसका बयान वाला वीडियो अपलोड कर दिया। जब वीडियो अपलोड़ होने की जानकारी मुंबई में रहकर नौकरी कर रहे पति को लगी तो उसने अपने परिवार की बेइज्जती का हवाला देते हुए पीड़िता से सारे रिश्ते खत्म कर लिए। हालांकि इस दौरान पुलिस ने मामले को सोशल मीडिया पर वॉयरल होता देख पीड़िता का डाक्टरी परीक्षण करवाकर जांच आगे बढ़ाने की बात कही है।

मामला जौनपुर जिले के चंदवक थानाक्षेत्र का है। जहां रहने वाली एक विवाहिता ने अपने संजय नामक पड़ोसी पर घर में घुसकर बलात्कार करने का अरोप लगाया है। पीड़िता के मुताबिक उसका पति मुंबई में नौकरी करता है और वह गांव में बने अपने मकान में अकेली रहती है। पिछले कुछ दिनों से उसकी दोस्ती आरोपी संजय की बेटी से हो गई थी, जो खाली समय में उसके घर आने जाने लगी थी। बकौल पीड़िता संजय अपनी बेटी के बहाने उसके घर आने जाने लगा था, एक दो बार आरोपी ने पीड़िता के साथ छेड़छाड़ की लेकिन पीड़िता के विरोध के चलते उसकी दाल नहीं गली। पीड़िता का कहना है कि उसने संजय को चेतावनी भी दी थी कि वह उसकी शिकायत घर पर करेगी लेकिन इसी बात से नाराज संजय ने मौका देखकर उसके साथ दुष्कर्म कर डाला। इसके बाद पीड़िता को लोकलाज और बदनामी की धमकी देकर निकल गया।

{ यह भी पढ़ें:- केंद्रीय कैबिनेट मंत्री की बहन के साथ अपहरण की कोशिश }

आरोपी ने कहा झूठा है मामला-

इस मामले में बलात्कार का आरोप झेल रहे संजय का कहना है कि उसकी बेटी कहीं लापता हो गयी है। वह पीड़िता के घर आए दिन जाया करती थी। इसीलिए उसकी पत्नी पीड़िता के घर अपनी बेटी के बारे में पूछने गई थी। इतने में कथित पीड़िता ने उसकी पत्नी के साथ मारपीट शुरू कर दी। दोनों के बीच हुई हाथापाई में दोनों महिलाएं कपड़े फड़वा बैंठीं और पूरा मामला उसके सिर मढ़ दिया।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी के इस मंदिर में कर्मचारियों ने किया महिला के साथ गैंगरेप }

संजय का कहना है कि लड़ाई महिलाओं के बीच हुई थी। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने उसे 151 में गिरफ्तार भी किया था लेकिन परिजनों ने उसे जमानत पर छुड़वा लिया। अब वह नई कहानी बनाकर उसे फंसाने की कोशिश कर रही है।