शादी समारोह में किशोरी के साथ दुराचार, आरोपी दबोचा गया

a.jpeg

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कैसरबाग इलाके मेंं मौसी की बेटी की शादी में शामिल होने आये एक 12 साल की किशोरी के साथ सोफा कारीगर ने दुराचार किया। किशोरी को गायब होने पर परिवार के लोग जब उसको तलाशते हुए मौके पर पहुंचे तो आरोपी वहां से भाग निकला। इसके बाद परिवार वालों को घटना का पता चला। किशोरी को इलाज के लिए डफरीन अस्पताल में भर्ती कराया गया हे। वहीं कैसरबाग पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Rape With Minor Girl In Marriage Function In Lucknow :


एसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी ने ठाकुरगंज के हुसैनाबाद इलाके में एक 12 साल की किशोरी अपने परिवार संग रहती है। बताया जाता है कि मंगलवार की रात किशोरी अपने परिवार वालों संग मौसी की बेटी की शामिल होने कैसरबाग के घसियारी मण्डी स्थित बाबा ठाकुर प्रसाद इण्टर कालेज गयी थी।

बताया जाता है कि देर रात किशोरी अचानक शादी समारोह से गायब हो गयी। कुछ देर तक जब किशोरी परिवार वालों को नज़र नहीं आयी तो परिवार वालों ने उसको तलाशना शुरू किया। इस बीच परिवार के लोग कालेज में ही बने ऊपरी मंजिल के कमरे पहुंचे तो मोहल्ले का रहने वाला राकेश नाम का एक युवक कमरे से भागते हुए दिखा। परिवार के लोग जब कमरे में पहुंचे तो मंजर देख सन्न रह गये। कमरे में किशोरी बदहवास हालात में पड़ी थी।

उसके कपड़े फटे थे और शरीर पर जगह-जगह चोट के निशान थे। किशोरी की हालात देख परिवार के लोग उसके साथ हुई हैवानियत की घटना को समझ गये। परिवार वालों ने फौरन सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने फौरन किशोरी को इलाज के लिए डफरीन असपताल में भर्ती कराया।

घर पर मिला आरोपी पुलिस ने किया गिरफ्तार
बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराने के बाद पुलिस ने जब परिवार वालों से बातचीत की तो पता चला कि बच्ची के साथ हैवानियत घसियारी मण्डी निवासी सोफा कारीगर राकेश ने की है। राकेश का नाम पता चलते कैसरबाग पुलिस उसके घर पहुंची। पुलिस को घर के बाहर देख राकेश सकपका गया। पुलिस ने फौरन ही उसको गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ की गयी तो आरोपी पहले तो पुलिस को इधर-उधर की कहानी बताने लगा। इसके बाद आरोपी ने किशोरी के साथ हैवानियत की बात कुबूली ली। आरोपी ने बताया कि वह किशोरी का बहाने से कालेज की ऊपरी मंजिल पर बने कमरे में ले गया था।


घटना के बाद से डरी-सहमी है किशोरी
सीओ कैसरबाग ने बताया कि इस घटना के बाद पीडि़त किशोरी काफी डरी और सहमी है। फिलहाल उसको इलाज के लिए डफरीन अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि किशोरी के सामान्य होने के बाद उससे घटना को बातचीत की जायेगी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कैसरबाग इलाके मेंं मौसी की बेटी की शादी में शामिल होने आये एक 12 साल की किशोरी के साथ सोफा कारीगर ने दुराचार किया। किशोरी को गायब होने पर परिवार के लोग जब उसको तलाशते हुए मौके पर पहुंचे तो आरोपी वहां से भाग निकला। इसके बाद परिवार वालों को घटना का पता चला। किशोरी को इलाज के लिए डफरीन अस्पताल में भर्ती कराया गया हे। वहीं कैसरबाग पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।


एसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी ने ठाकुरगंज के हुसैनाबाद इलाके में एक 12 साल की किशोरी अपने परिवार संग रहती है। बताया जाता है कि मंगलवार की रात किशोरी अपने परिवार वालों संग मौसी की बेटी की शामिल होने कैसरबाग के घसियारी मण्डी स्थित बाबा ठाकुर प्रसाद इण्टर कालेज गयी थी।

बताया जाता है कि देर रात किशोरी अचानक शादी समारोह से गायब हो गयी। कुछ देर तक जब किशोरी परिवार वालों को नज़र नहीं आयी तो परिवार वालों ने उसको तलाशना शुरू किया। इस बीच परिवार के लोग कालेज में ही बने ऊपरी मंजिल के कमरे पहुंचे तो मोहल्ले का रहने वाला राकेश नाम का एक युवक कमरे से भागते हुए दिखा। परिवार के लोग जब कमरे में पहुंचे तो मंजर देख सन्न रह गये। कमरे में किशोरी बदहवास हालात में पड़ी थी।

उसके कपड़े फटे थे और शरीर पर जगह-जगह चोट के निशान थे। किशोरी की हालात देख परिवार के लोग उसके साथ हुई हैवानियत की घटना को समझ गये। परिवार वालों ने फौरन सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने फौरन किशोरी को इलाज के लिए डफरीन असपताल में भर्ती कराया।

घर पर मिला आरोपी पुलिस ने किया गिरफ्तार
बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराने के बाद पुलिस ने जब परिवार वालों से बातचीत की तो पता चला कि बच्ची के साथ हैवानियत घसियारी मण्डी निवासी सोफा कारीगर राकेश ने की है। राकेश का नाम पता चलते कैसरबाग पुलिस उसके घर पहुंची। पुलिस को घर के बाहर देख राकेश सकपका गया। पुलिस ने फौरन ही उसको गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ की गयी तो आरोपी पहले तो पुलिस को इधर-उधर की कहानी बताने लगा। इसके बाद आरोपी ने किशोरी के साथ हैवानियत की बात कुबूली ली। आरोपी ने बताया कि वह किशोरी का बहाने से कालेज की ऊपरी मंजिल पर बने कमरे में ले गया था।


घटना के बाद से डरी-सहमी है किशोरी
सीओ कैसरबाग ने बताया कि इस घटना के बाद पीडि़त किशोरी काफी डरी और सहमी है। फिलहाल उसको इलाज के लिए डफरीन अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि किशोरी के सामान्य होने के बाद उससे घटना को बातचीत की जायेगी।