रेरा ने खरीददारों को चेताया, रोहतास बिल्डर को न करें एक भी रूपए का भुगतान

rohtas-builder
तो क्या जालसाज रोहतास बिल्डर्स के मालिक को बचाना चाह रही है यूपी पुलिस और नौकरशाह

लखनऊ। रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथारिटी लगातार रोहतास बिल्डर पर शिकंजा कस रही है। अब रेरा ने सभी खरीददारों से कहा है कि रोहतास बिल्डर को एक पैसे का भी भुगतान न किया जाए। विभाग ने ये आदेश रोहतास की रायबरेली और सुलतानपुर रोड योजना को लेकर दिया है।

Rare Warned Buyers Do Not Give Rohtas One Rupee :

रेरा के अधिकारियों का कहना है कि रोहतास ने इन दोनों योजनाओं का पंजीकरण नहीं कराया है। जिसके चलते ​विभाग बिल्डर के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करने जा रहा है। यहां तक कि विभाग रोहतास बिल्डर को नोटिस भी जारी कर चुका है। बता दें कि इन दोनों मार्गों पर रोहतास बिल्डर ने अलग—अलग नाम से 12 परियोजनाएं शुरु कराई है। जिसमें से एक का भी रजिस्ट्रेशन नहीं है।

बता दें रोहतास बिल्डर ने इन दोनों परियोजनाओं के नाम पर लोगों से करोड़ों रूपए जमा करा लिए हैं। अब पैसा लेने के ​बाद बिल्डर किसी को भी मकान व प्लाट नहीं दे रहा है। जिससे परेशान होकर करीब 200 लोगों ने रेरा में रोहतास के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करवा चुके हैं।

इसी वजह से रेरा ने खरीददारों को आगाह किया है कि अब वो लोग रोहतास बिल्डर को एक पैसे का भी भुगतान न करें। बताते चले कि इन्ही परियोजनाओं में खरीददार करोड़ों रूपए भुगतान पहले ही कर चुके हैं।

लखनऊ। रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथारिटी लगातार रोहतास बिल्डर पर शिकंजा कस रही है। अब रेरा ने सभी खरीददारों से कहा है कि रोहतास बिल्डर को एक पैसे का भी भुगतान न किया जाए। विभाग ने ये आदेश रोहतास की रायबरेली और सुलतानपुर रोड योजना को लेकर दिया है। रेरा के अधिकारियों का कहना है कि रोहतास ने इन दोनों योजनाओं का पंजीकरण नहीं कराया है। जिसके चलते ​विभाग बिल्डर के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करने जा रहा है। यहां तक कि विभाग रोहतास बिल्डर को नोटिस भी जारी कर चुका है। बता दें कि इन दोनों मार्गों पर रोहतास बिल्डर ने अलग—अलग नाम से 12 परियोजनाएं शुरु कराई है। जिसमें से एक का भी रजिस्ट्रेशन नहीं है। बता दें रोहतास बिल्डर ने इन दोनों परियोजनाओं के नाम पर लोगों से करोड़ों रूपए जमा करा लिए हैं। अब पैसा लेने के ​बाद बिल्डर किसी को भी मकान व प्लाट नहीं दे रहा है। जिससे परेशान होकर करीब 200 लोगों ने रेरा में रोहतास के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करवा चुके हैं। इसी वजह से रेरा ने खरीददारों को आगाह किया है कि अब वो लोग रोहतास बिल्डर को एक पैसे का भी भुगतान न करें। बताते चले कि इन्ही परियोजनाओं में खरीददार करोड़ों रूपए भुगतान पहले ही कर चुके हैं।