ग्रामीण क्षेत्रों में खाली राशन की दुकानों का आवंटन जल्द करने के निर्देश

khadya-rasad
ग्रामीण क्षेत्रों में खाली राशन की दुकानों का आवंटन जल्द करने के निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में लम्बे समय से खाली चल रही राशन की दुकानों का आवंटन जल्दी करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये हैं।

Rashan Ki Dukano Ka Awantan :

इस सम्बन्ध में खाद्य एवं रसद विभाग की प्रमुख सचिव निवेदिता शुक्ला वर्मा ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों और ज़िला पूर्ति अधिकारियों को परिपत्र के माध्यम से निर्देश दिये है कि ऐसी ग्राम सभाओं जहाँ, प्रस्ताव में विवाद है या किसी विवाद के कारण दुकान की नियुक्ति नहीं हो पा रही है, उनकी सूची बनाकर उप-जिलाधिकारी द्वारा लखनऊ पत्रों को छांटकर उनकी अलग सूची तैयार की जायेगी।

चयन समिति की बैठक की तिथि निर्धारित कर उसका व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जायेगा एवं अर्ह आवेदकों को सूचित कर प्राप्ति रसीद सुरक्षित रखी जायेगी। बैठक में उप-ज़िलाधिकारी (चयन समिति के अध्यक्ष) के समक्ष लाॅटरी निकाली जाये, जिसमें अर्ह आवेदक भी उपस्थित होगे। यदि कोई आवेदक उपस्थित नहीं होगा, तो उसे सूचित करने की रसीद प्रस्तुत कर उसकी अनुपस्थिति में कार्यवाही की जायेगी। लाॅटरी निकालने हेतु किसी तटस्थ व्यक्ति को चुना जायेगा। पूरी कार्यवाही की रिकार्डिंग करायी जायेगी और कार्यवृत्त जारी किया जायेगा।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में लम्बे समय से खाली चल रही राशन की दुकानों का आवंटन जल्दी करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये हैं।इस सम्बन्ध में खाद्य एवं रसद विभाग की प्रमुख सचिव निवेदिता शुक्ला वर्मा ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों और ज़िला पूर्ति अधिकारियों को परिपत्र के माध्यम से निर्देश दिये है कि ऐसी ग्राम सभाओं जहाँ, प्रस्ताव में विवाद है या किसी विवाद के कारण दुकान की नियुक्ति नहीं हो पा रही है, उनकी सूची बनाकर उप-जिलाधिकारी द्वारा लखनऊ पत्रों को छांटकर उनकी अलग सूची तैयार की जायेगी।चयन समिति की बैठक की तिथि निर्धारित कर उसका व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जायेगा एवं अर्ह आवेदकों को सूचित कर प्राप्ति रसीद सुरक्षित रखी जायेगी। बैठक में उप-ज़िलाधिकारी (चयन समिति के अध्यक्ष) के समक्ष लाॅटरी निकाली जाये, जिसमें अर्ह आवेदक भी उपस्थित होगे। यदि कोई आवेदक उपस्थित नहीं होगा, तो उसे सूचित करने की रसीद प्रस्तुत कर उसकी अनुपस्थिति में कार्यवाही की जायेगी। लाॅटरी निकालने हेतु किसी तटस्थ व्यक्ति को चुना जायेगा। पूरी कार्यवाही की रिकार्डिंग करायी जायेगी और कार्यवृत्त जारी किया जायेगा।