पीएम मोदी ने लवकुश रामलीला में छोड़ा तीर, धू-धू कर जल उठा रावण

ravan dahan at delhi
पीएम मोदी ने लवकुश रामलीला में छोड़ा तीर, धू-धू कर जल उठा रावण

नई दिल्ली। देश में आज दशहरे का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जा रहा है। बुराई पर अच्छाई की जीत के इस त्योहार में गरीब से लेकर अमीर तक बढ़—चढ़ कर हिस्सा ले रहे है। इसी क्रम में दिल्ली की लवकुश रामलीला में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र भी पहुंचे, जहां रामलीला मंचन के बाद पीएम मोदी ने तीर चलाया। इसके बाद रावण का पुलता धू—धू कर जल उठा। वहीं श्री नवधार्मिक रामलीला समिति के दशहरा उत्सव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रावण के पुतले का दहन किया। दिल्ली के अलावा बिहार, पंजाब, उत्तर प्रदेश के कई जिलों में रावण दहन किया गया वहीं कुछ जगहों पर देर रात इसका आयोजन किया जाएगा।

Ravan Dahan At Delhi By Pm Modi President Ramnath Kovind Was Present There :

उधर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने दशहरे का पर्व भारत- पाकिस्तान सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवानों के साथ मनाया। इससे पहले उन्होने’शस्त्र पूजा’ भी की। बता दें कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि जब किसी वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री ने विजयादशमी के दिन अंतरराष्ट्रीय सीमा पर ‘शस्त्र पूजा की है। बताया जाता है कि विजयादशमी को पारंपरिक रूप से शस्त्र पू्जन होता है। राजनाथ सिंह ने इस दौरान सीमा चौकी सतपाक का दौरा किया तथा वहां शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित करके शहीदों को श्रद्धांजलि देने के साथ वहां मौजूद सैनिकों को सम्बोधित भी किया।

बता दें कि बुराई पर अच्छाई की जीत का पर्व विजयदशमी राजस्थान में हर्ष और उल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर शहर के बाजारों में मिठाइयों, पटाखों, आभूषणों और अन्य दुकानों में लोगों को खरीददारी करते देखा गया। धार्मिक दृष्टि से अबूझ सावे का दिन माने जाने के कारण इस दिन लोग नये वाहन भी खरीदते हैं। शहर में रावण के पुतलों की मंडी में खासी भीड़ देखी गई। बच्चों में रावण के पुतले खरीदने का खासा उत्साह नजर आया।

उधर पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में शुक्रवार को दशहरा के अवसर पर ‘श्री दशहरा उत्सव’ के मौके पर बुराई और अहंकार के प्रतीक रावण को जलाया गया। इस क्रम में रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद के विशालकाय पुतले भी जलाए गए।
पटना में 64 सालों से दशहरा के मौके पर रावण दहन कार्यक्रम का गवाह बने गांधी मैदान में इस वर्ष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दीप प्रज्ज्वलित कर दशहरा मोहत्सव की शुरुआत की। इसके बाद रामलला की आरती की गई।

नई दिल्ली। देश में आज दशहरे का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जा रहा है। बुराई पर अच्छाई की जीत के इस त्योहार में गरीब से लेकर अमीर तक बढ़—चढ़ कर हिस्सा ले रहे है। इसी क्रम में दिल्ली की लवकुश रामलीला में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र भी पहुंचे, जहां रामलीला मंचन के बाद पीएम मोदी ने तीर चलाया। इसके बाद रावण का पुलता धू—धू कर जल उठा। वहीं श्री नवधार्मिक रामलीला समिति के दशहरा उत्सव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रावण के पुतले का दहन किया। दिल्ली के अलावा बिहार, पंजाब, उत्तर प्रदेश के कई जिलों में रावण दहन किया गया वहीं कुछ जगहों पर देर रात इसका आयोजन किया जाएगा। उधर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने दशहरे का पर्व भारत- पाकिस्तान सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवानों के साथ मनाया। इससे पहले उन्होने'शस्त्र पूजा' भी की। बता दें कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि जब किसी वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री ने विजयादशमी के दिन अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 'शस्त्र पूजा की है। बताया जाता है कि विजयादशमी को पारंपरिक रूप से शस्त्र पू्जन होता है। राजनाथ सिंह ने इस दौरान सीमा चौकी सतपाक का दौरा किया तथा वहां शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित करके शहीदों को श्रद्धांजलि देने के साथ वहां मौजूद सैनिकों को सम्बोधित भी किया। बता दें कि बुराई पर अच्छाई की जीत का पर्व विजयदशमी राजस्थान में हर्ष और उल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर शहर के बाजारों में मिठाइयों, पटाखों, आभूषणों और अन्य दुकानों में लोगों को खरीददारी करते देखा गया। धार्मिक दृष्टि से अबूझ सावे का दिन माने जाने के कारण इस दिन लोग नये वाहन भी खरीदते हैं। शहर में रावण के पुतलों की मंडी में खासी भीड़ देखी गई। बच्चों में रावण के पुतले खरीदने का खासा उत्साह नजर आया। उधर पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में शुक्रवार को दशहरा के अवसर पर 'श्री दशहरा उत्सव' के मौके पर बुराई और अहंकार के प्रतीक रावण को जलाया गया। इस क्रम में रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद के विशालकाय पुतले भी जलाए गए। पटना में 64 सालों से दशहरा के मौके पर रावण दहन कार्यक्रम का गवाह बने गांधी मैदान में इस वर्ष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दीप प्रज्ज्वलित कर दशहरा मोहत्सव की शुरुआत की। इसके बाद रामलला की आरती की गई।