1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. Ravi Shastri : रवि शास्त्री फिर से नहीं बनना चाहते हैं भारतीय क्रिकेट टीम के कोच

Ravi Shastri : रवि शास्त्री फिर से नहीं बनना चाहते हैं भारतीय क्रिकेट टीम के कोच

Ravi Shastri : भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri ) ने कहा कि वह दूसरी बार यह काम नहीं करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि एक कोच के रूप में उन्हें जो करना था, वह उन्होंने सात साल में कर लिया है। अब उनकी इच्छा है कि एक दर्शक के रूप में वह खेल का मजा लें।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Ravi Shastri : भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri ) ने कहा कि वह दूसरी बार यह काम नहीं करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि एक कोच के रूप में उन्हें जो करना था, वह उन्होंने सात साल में कर लिया है। अब उनकी इच्छा है कि एक दर्शक के रूप में वह खेल का मजा लें। रवि शास्त्री (Ravi Shastri )  ने हर किरदार में क्रिकेट जगत में अपनी अलग छाप छोड़ी है। एक बल्लेबाज के रूप में उन्होंने कई रिकॉर्ड बनाए। गेंदबाजी में भी उन्होंने कमाल किया। शास्त्री रवि शास्त्री (Ravi Shastri )  शानदार फील्डर भी थे। क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद उन्होंने कमेंट्री शुरु की और दर्शकों को दीवाना बना लिया।

पढ़ें :- Lucknow Weather : IND vs SA 1st ODI चढ़ सकता है बारिश की भेंट, जानें कैसा है लखनऊ का मौसम?

शास्त्री ने सात साल तक भारत की कोचिंग (Coaching Team India) की और वह हासिल किया, जो उनसे पहले कोई नहीं कर पाया था। बतौर कोच उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में दो बार टेस्ट सीरीज जीती। उनसे पहले कोई भी भारतीय कोच (Indian Coach) एक बार भी ऑस्ट्रेलिया में सीरीज नहीं जीत पाया था। इसके अलावा उन्होंने तेज गेंदबाजों की जो फौज तैयार की, उससे सभी आज भी खौफ खाते हैं। उन्हीं गेंदबाजों के दम पर टीम इंडिया (Team India) आज भी विदेशों में टेस्ट सीरीज जीतने का दम भरती है। हालांकि, रवि शास्त्री (Ravi Shastri ) कोई आईसीसी ट्रॉफी (ICC Trophy) नहीं जीत पाए।

अब कोच नहीं बनना चाहते शास्त्री

रवि शास्त्री (Ravi Shastri ) से जब पूछा गया कि क्या वह फिर से भारत के कोच बनना चाहेंगे तो उन्होंने कहा कि मेरा कोचिंग का हिसाब खत्म हो गया। सात साल जीता करना था, में कर लिया। अब अगर मैं कुछ कोचिंग दूंगा, तो यह जमीनी स्तर पर होगा, जिसके लिए मेरी एक कंपनी है जो यह कर रही है। मैं उसमें भाग लूंगा। एक कोच के रूप में मेरा समय समाप्त हो गया है। अब मैं खेल को दूर से देखूंगा और इसका लुत्फ उठाऊंगा।

टी20 विश्व कप (T20 World Cup again) से भारत (India) के बाहर होने के बाद पिछले साल शास्त्री का कार्यकाल समाप्त हो गया था। विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम को पाकिस्तान (Pakistan) और न्यूजीलैंड (New Zealand) के हाथों दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा था, जिससे सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने की उनकी संभावना खतरे में पड़ गई थी। टीम ने हालांकि अपने अगले तीन मैच अफगानिस्तान, नामीबिया और स्कॉटलैंड के खिलाफ जीते, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। भारत विश्व कप (India World Cup) से बाहर हो गया और आगे शास्त्री ने भी एक कोच के रूप में अपना कार्यकाल खत्म किया।

पढ़ें :- T20 World Cup : टीम इंडिया को बड़ा झटका, जसप्रीत बुमराह हुए आउट

इस साल की शुरुआत में, शास्त्री ने आईपीएल 2022 (IPL 2022) के दौरान कमेंट्री बॉक्स (Commentary Box) में वापसी की। वर्तमान में, वह लीजेंड्स लीग क्रिकेट 2022 (Legends League Cricket 2022) का संचालन कर रहे हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...