हर पांचवा आदमी है मुंह के कैसर से पीड़ित, IARC की रिपोर्ट में हुआ खुलासा

moth cancer
हर पांचवा आदमी है मुंह के कैसर से पीड़ित, IARC की रिपोर्ट में हुआ खुलासा

Reason Of Mouth Cancer Is Tobacco

नई दिल्ली। तंबाकू और पान मसाले का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए कितना हानिकारक है, इसका खुलासा यूएन एजेंसी की कैंसर को लेकर की गई एक जांच रिपोर्ट में हुआ है। इस रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान समय में हर पांचवा आदमी मुंह के कैंसर से पीड़ित है। रिपोर्ट में किए गए दावों की मानें तो मुंह का कैंसर होने का सबसे बड़ा कारण पान मसाला और तम्बाकू का सेवन होता है।

वहीं शारदा अस्पताल के डॉक्टरों के रिसर्च की मानें तो सेवन करने वाले हर दूसरे व्यक्ति में कैंसर के शुरुआती लक्षण पाए गए हैं। डॉक्टरों की टीम ने पिछले 6 माह में रिसर्च के आंकड़े जारी किए है। डाक्टरों का कहना है कि तम्बाकू उत्पात करने वाले लगभग सभी लोग कैंसर के मुहाने पर होते हैं, इनमे कुछ लोग उसकी चपेट में आ जाते हैं, जबकि कुछ की किस्मत साथ दे जाती है।

यूएन एजेंसी की जांच में पता चला ​है कि वर्ष 2018 में भारत में ही कैंसर कै तमाम मामले सामने आ चुके है। इनमें पुरष व महिलाएं दोनों शामिल है। रिपोर्ट के मुताबिक इस साल 587249 महिलाएं और 570045 पुरूषों को मुंह का कैंसर हुआ है। वही 784821 लोगों ने मुंह के कैंसर से पीड़ित होकर अपनी जांन गंवाई है।

यूनाईटेड नेशंस की एजेंसी IARC की मानें तो इस साल पूरी दुनिया में मुंह के कैंसर के कुल 1.8 करोड़ मामले में प्रकाश में आए है। जिनमें करीब 96 लाख लोगों की मौत हुई है। रिपोर्ट में बताया गया हर पांचवे पुरूष को मुंह का कैंसर होता है, जबकि महिलाओं में ये हर छठवीं महिला इस बीमारी से पीड़ित होती है।

नई दिल्ली। तंबाकू और पान मसाले का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए कितना हानिकारक है, इसका खुलासा यूएन एजेंसी की कैंसर को लेकर की गई एक जांच रिपोर्ट में हुआ है। इस रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान समय में हर पांचवा आदमी मुंह के कैंसर से पीड़ित है। रिपोर्ट में किए गए दावों की मानें तो मुंह का कैंसर होने का सबसे बड़ा कारण पान मसाला और तम्बाकू का सेवन होता है। वहीं शारदा अस्पताल के डॉक्टरों के रिसर्च की मानें…