Dangerous : अगर आप खाते है चिकन तो हो जाए सावधान

नई दिल्ली। अगर आप चिकन खाने के शौकीन हैं और इसके सेवन को अपनी सेहत के लिए बेहतर मानते हैं तो सावधान हो जाइये। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि चिकन में पोषक तत्वों के साथ साथ ऐसी बीमारियों को जन्म देने की क्षमता पाई गई है जो हमारी आने वाली पीढ़ियों तक को प्रभावित कर सकती है। चिकन यानी मुर्गी पर किए गए शोध में कुछ ऐसे तथ्य सामने आए है, जिन्हें आप चेतावनी के रूप में स्वीकार कर सकते हैं।

इनफर्टिलिटी की समस्या बढ़ाता है चिकन–
शोध के अनुसार पोल्ट्री पालक चिकन को जल्दी बड़ा और बजन बढ़ाने के लिए आॅक्सीटोन के इंजेक्शन देते हैं। इन इंजेक्शनस का दुष्प्रभाव चिकन खाने वाले लोगों के स्वास्थ्य पर पड़ता है। खासकर महिलाओं और पुरूषों की फर्टिलिटी यानी प्रजनन क्षमता पर इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। सीधे शब्दों में कहा जाए तो उन्हें संतान प्राप्ती में पेरशानी होती है।

{ यह भी पढ़ें:- इन उपायों से पैरों की दुर्गन्ध को कहें BYE-BYE }

महिलाओं फर्टिलिटी पर ज्यादा प्रभाव–
यदि आप महिला हैं और चिकन का सेवन नियमित तौर पर करतीं हैं तो सावधान हो जाएं। क्योंकि चिकन में मौजूद ओक्सिटोसिन आपके डीनए और हार्मोंस में असंतुलन पैदा कर सकता है। जो भविष्य में इनफर्टिलिटी के रूप ले सकती है।

पुरूषों में भी दिखा गंभीर प्रभाव–
इस शोध में नियमित रूप से चिकन खाने वाले लोगों पर किए गए अध्ययन में सामने आया है कि चिकन खाने वालों में शुक्राणुओं की कमी देखी गई। चिकन की बजाए बजाए मछली या मीट खाने वाले लोगों में ऐसी समस्या नहीं देखी गई।

{ यह भी पढ़ें:- बर्थडे केक कर सकता है बीमार, सावधानी से करें ये काम }

चिकन में होते है कई बैड बैक्टीरिया–
आम तौर पर जिन जगहों पर पोल्ट्री फार्मस या स्लॉटर का काम होता है वे स्थान ज्यादा गंदे होते हैं। जिसकी वजह है मुर्गी के अवशेषों का व्यर्थ जाना। आमतौर पर ये अवशेष आसपास के ​इलाकों में ही सड़ते हैं। जिनमें पैदा होने वाले बैड बैक्टीरिया जिन्दा मुर्गियों में प्रवेश कर खाने वाले के स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं।

Loading...