आइडिया और वोडाफोन से जियो ने मांगा इंटरकनेक्शन पोर्ट

मुंबई| रिलायंस जियो और पुरानी मोबाइल कम्पनियों के बीच विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। जियो का कहना है कि पुरानी मोबाइल कंपनियों जैसे आइडिया और वोडाफोन के पुरानी सेल्युलर मोबाइल सेवा ऑपरेटरों के नेटवर्क पर कॉल भेजने की पर्याप्त सुविधा नहीं मिलने से उसकी सेवाओं में दिक्कत आ रही है। जियो ने इन कंपनियों से और अधिक संख्या में इंटरकनेक्शन पोर्ट देने को कहा है।




रिलायंस जियो का कहना है कि पुरानी कंपनियों की ओर से अधिक संख्या में इंटरकनेक्शन पोर्ट न देना ‘कानून के विरुद्ध और अवैध विलम्ब है’। दूरसंचार नियामक ट्राई द्वारा सेवा गुणवत्ता मुद्दों के समाधान के लिये दूरसंचार कंपनियों को सात अक्टूबर को जारी निर्देशों का जिक्र करते हुए मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली कंपनी ने वोडाफोन और आइडिया को अलग से पत्र लिखकर इंटरकनेक्शन पोर्ट जारी करने को कहा है।

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण ने 17 अक्टूबर 2016 तक मोबाइल कंपनियों को इस मसले को सुलझाने को कहा था जिससे ग्राहकों को मिलने वाली सेवाओं पर इसका कोई प्रभाव न पड़े।

रिपोर्ट: आस्था सिंह

Loading...