1. हिन्दी समाचार
  2. बिज़नेस
  3. रिलायंस जूल्स ने इस अक्षय तृतीया के अवसर पर “रणकार” कलेक्शन लॉन्च किया

रिलायंस जूल्स ने इस अक्षय तृतीया के अवसर पर “रणकार” कलेक्शन लॉन्च किया

भारत के प्रमुख जूलरी ब्रांडों में शामिल रिलायंस जूल्स कला और संस्कृति, परंपराओं और दृढ़ विश्वासों से प्रेरित अपने ऐसे कई कलेक्शंस के लिए मशहूर है, जो भारत की समृद्ध और विविधतापूर्ण विरासत को मूर्त रूप प्रदान करते हैं। उड़ीसा से प्रेरित उत्कल से लेकर बनारस से प्रेरित कासयम तक रिलायंस जूल्स ने अपनी जूलरी डिजाइनों के माध्यम से भारत की समृद्ध और विविधतापूर्ण विरासत को प्रस्तुत करना जारी रखा है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। भारत के प्रमुख जूलरी ब्रांडों में शामिल रिलायंस जूल्स कला और संस्कृति, परंपराओं और दृढ़ विश्वासों से प्रेरित अपने ऐसे कई कलेक्शंस के लिए मशहूर है, जो भारत की समृद्ध और विविधतापूर्ण विरासत को मूर्त रूप प्रदान करते हैं। उड़ीसा से प्रेरित उत्कल से लेकर बनारस से प्रेरित कासयम तक रिलायंस जूल्स ने अपनी जूलरी डिजाइनों के माध्यम से भारत की समृद्ध और विविधतापूर्ण विरासत को प्रस्तुत करना जारी रखा है।

पढ़ें :- भारत में ट्विटर पर ब्लू टिक के लिए चुकाने होंगे इतने रुपए प्रति महीना, लगेगा सर्विस चार्ज

रिलायंस जूल्स ने अक्षय तृतीया के शुभ एवं पावन उत्सव को मनाने के लिए बेहतरीन जूलरी का एक शानदार कलेक्शन “रणकार” https://youtu.be/rLIbZm-ey8g लॉन्च किया है। यह कलेक्शन कच्छ के रन और इसकी विविधतापूर्ण विरासत से प्रेरित है। कच्छ सफेद रंग के सम्मोहक और जादुई रन तथा जीवंत रंगों से भरपूर एक कैलीडोस्कोप का ठिकाना है।

ग्राहकों को कच्छ के जीवंत और सुंदर कला रूपों से प्रेरित विभिन्न प्रकार की बारीक डिजाइन वाली और कलात्मक रूप से तैयार की गई जूलरी चुनने को मिलेगी। इन कला रूपों में शामिल हैं: अजरख – एक पुरानी ब्लॉक प्रिंटिंग तकनीक, रोगन – समृद्ध कुदरती रंगों से रची गई पेंटिंग का एक खूबसूरत रूप, लिप्पन- आश्चर्यजनक शिल्प कौशल, जिसमें दीवारों पर दर्पण उकेरे जाते हैं, कच्छ की जीवंत कढ़ाई, बंधानी- एक लोकप्रिय टाई-एंड-डाई तकनीक, जिसे अनगिनत लोग पसंद करते हैं, और कच्छ में किया गया खूबसूरत वुड वर्क।

भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत का जश्न मनाने, इसका आदर करने तथा अपने ग्राहकों के लिए अक्षय तृतीया के उत्सव को और भी ज्यादा खास बनाने के लिए रिलायंस जूल्स ने यह दर्शनीय व शानदार कलेक्शन लॉन्च किया है, जो कच्छ के शिल्प कौशल को खूबसूरत नेकलेस सेट्स, पेंडेंट सेट्स, झुमकों, सोने और हीरे जड़ी अंगूठियों व चूड़ियों की शक्ल में पेश करता है।

यह कलेक्शन कच्छ की सुंदरता को जीवंत करने वाले दिलकश और अलंकृत किए गए भव्य चोकर सेट्स से लेकर लंबे, बारीक और सुरुचिपूर्ण नेकलेस सेट्स के साथ-साथ 22 कैरेट सोने से बनी चूड़ियों और अंगूठियों की सुंदर डिजाइनों के जरिए अपने प्रतिष्ठित ग्राहकों को चुनने के ढेर सारे विकल्प प्रदान करता है। रन का प्रतिनिधित्व करने वाले सुरुचिपूर्ण मोतियों का उपयोग और नीले व लाल रंग में की गई मीनाकारी अजरख और बंधानी की प्रेरणा को स्पष्ट तौर से प्रदर्शित करती है। कच्छ के वुड वर्क की जटिलताओं को सोने के चोकरों की नक्काशी में भव्य रूप से प्रदर्शित किया गया है। यहां विभिन्न अवसरों और बजट के अनुरूप एक विस्तृत रेंज मौजूद है। गोल्ड कलेक्शन की डिजाइन में उत्कृष्ट फिलिग्री वर्क तथा मीनाकारी व कुंदन वाली अदा के साथ मंदिर-शैली की जूलरी को शामिल किया गया है।

पढ़ें :- Adani-Hindenburg Row : हिंडनबर्ग रिसर्च रिपोर्ट मामले में सुप्रीम कोर्ट सुनवाई को तैयार, SIT जांच की मांग पर सुनवाई कल

रणकार कलेक्शन में मौजूद हीरे की डिजाइन कच्छ वाली जीवंतता की तरह ही बेमिसाल हैं। चमकदार व शोभायमान नेकलेस सेट्स, पेंडेंट सेट्स और अंगूठियां विभिन्न तरीकों से कच्छ की भावना और शिल्प कौशल को साकार करते हैं। उत्कृष्ट नेकलेस सेट्स अजरख और बंधानी शिल्प की बारीकियों को नीले व लाल रंग में सुंदर मीनाकारी के जरिए प्रदर्शित करते हैं, जो अद्भुत जड़ाऊ हीरों की बदौलत सबसे खास और अलग नजर आते हैं। रणकार क्लेक्शन में की गई हीरे की सेटिंग भी बड़ी खूबसूरती के साथ विभिन्न कला रूपों का अनूठा प्रतिनिधित्व करती है। कच्छ वाली खूबसूरत कढ़ाई ने डायमंड रेंज की अनेक डिजाइनों को प्रेरित किया है, जिसके चलते ऐसे आधुनिक और समकालीन लुक तैयार होते हैं, जो फेस्टिव, ब्राइडल और कंटेम्परेरी लुक के लिए सर्वथा उपयुक्त दिखते हैं।

नवीनतम कलेक्शन के बारे में टिप्पणी करते हुए रिलायंस जूल्स के सीईओ सुनील नायक ने कहा, “भारत के पास एक अति विशाल और मूल्यवान विरासत मौजूद है जो हमारे देश की जड़ों का अभिन्न अंग है। हमें इस विरासत की खोज करने तथा अपनी संस्कृति व कला रूपों की गहरी जड़ों वाली बेहतरीन जूलरी डिजाइन पेश करने पर गर्व है। हर किसी के जीवन में सौभाग्य और सफलता लाने वाली अक्षय तृतीया के पावन अवसर हेतु हम कच्छ के रन से प्रेरित अपने उत्कृष्ट रूप से अलंकृत कलेक्शन “रणकार” को प्रस्तुत करते हुए बहुत प्रसन्न हैं, जो हमारी डिजाइन वाली विरासत को आगे ले जाएगा। इस कलेक्शन में मौजूद सोने और हीरे का प्रत्येक हार, झुमके, अंगूठियां और चूड़ियाँ नायाब हैं तथा यह जूलरी कच्छ की भिन्न कला, परंपरा और विरासत का प्रतिनिधित्व करती है।“

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...