1. हिन्दी समाचार
  2. अन्य खबरें
  3. राधा-कृष्ण वियोग पढ़ अयूब धर्म परिवर्तन कर बने Abhinav Arya

राधा-कृष्ण वियोग पढ़ अयूब धर्म परिवर्तन कर बने Abhinav Arya

यूपी के औरेया जिले (Aureya District) के बिधूना तहसील (Bidhuna Tehsil) क्षेत्र से एक व्यक्ति के धर्म परिवर्तन (Religion change) का मामला सामने आया है। बिधूना तहसील (Bidhuna Tehsil)  के ग्राम बरौनाकलां निवासी अयूब खान (Ayub Khan) (31) पुत्र कदीर खान ने कृष्ण के प्रति राधा के अटूट प्रेम और आरएसएस (RSS) की नीतियों से प्रभावित होकर सत्य सनातन वैदिक धर्म (Sanatan Vedic Dharma) अपना लिया है। दिल्ली के राजेंद्र नगर में में यह संस्कार धर्माचार्य गवेंद्र शास्त्री के पुरोहित्व ने कराया।

By संतोष सिंह 
Updated Date

औरेया जिले । यूपी के औरेया जिले (Aureya District) के बिधूना तहसील (Bidhuna Tehsil) क्षेत्र से एक व्यक्ति के धर्म परिवर्तन (Religion change) का मामला सामने आया है। बिधूना तहसील (Bidhuna Tehsil)  के ग्राम बरौनाकलां निवासी अयूब खान (Ayub Khan) (31) पुत्र कदीर खान ने कृष्ण के प्रति राधा के अटूट प्रेम और आरएसएस (RSS) की नीतियों से प्रभावित होकर सत्य सनातन वैदिक धर्म (Sanatan Vedic Dharma) अपना लिया है। दिल्ली के राजेंद्र नगर में में यह संस्कार धर्माचार्य गवेंद्र शास्त्री के पुरोहित्व ने कराया।

पढ़ें :- कुछ इस तरह बनाएं ब्रेड चीज बॉल्स, बच्चों से लेकर बड़ो तक आता है पसंद

शुद्धि संस्कार के बाद अयूब का नया नाम अभिनव आर्य रखा गया है। अयूब इंटर की पढ़ाई के दौरान राधा वियोग (Radha-Krishna separation) चैप्टर से प्रेरणा लेकर मंदिर में पूजा-अर्चना करने लगे थे। उन्होंने बताया कि वह आरएसएस (RSS) से प्रभावित होकर लगभग 13 साल से भाजपा से जुड़े हैं। इसके लिए उन्हें परिवार की नाराजगी भी झेलनी पड़ी।

अभिनव आर्य (Abhinav Arya) की पत्नी नाजरीन, तीन बच्चे अनस, जीवा और बाबू है। पत्नी भी उनके विरोध में है। अभिनव को उनके बच्चों से नहीं मिलने दिया जाता। उनकी संपत्ति पर परिजनों ने कब्जा कर लिया है। उनका कहना है कि उत्पीड़न से परेशान होकर उन्होंने कई बार आत्महत्या का भी मन बनाया। तीन माह रेलवे स्टेशन पर काटे पर बाद में हिंदू धर्म अपनाना उचित समझा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...