31 अक्टूबर तक गड्ढामुक्त हो सभी सड़कें, सीएम योगी ने दिए निर्देश

cm yogi aditynath
यूपी: अब निगमों और प्राधिकारणों का मुखिया होगा एक, सीएम योगी ने दिये निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी 31 अक्टूबर तक प्रदेश की सभी सड़कों को गड्ढामुक्त करने के निर्देश दिए हैं। अधिकारियों को जल्द से जल्द काम पूरा करने का आदेश देते हुए उन्होने कहा कि इसके बाद वह स्वयं प्रदेश की सड़कों के मरम्मत कार्यों का औचक निरीक्षण करेंगे।

Repair All Dameged Road Befor 31 Of Oct Says Cm Yogi Aditynath :

सीएम योगी ने कहा कि विभिन्न विभागों के अन्तर्गत आने वाली सड़कों को गड्ढामुक्त करने की जिम्मेदारी उन्हीं की है। ऐसे में सभी विभाग ये सुनिश्चित करें कि सड़कों का काम जल्द से जल्द पूरा हो सके। सीएम ने इस कार्य के लिए लोक निर्माण विभाग को नोडल विभाग बनाया है। उन्होने कहा कि लोक निर्माण विभाग सभी विभागों से समन्वय स्थापित कर समय से काम पूरा कराए।

बता दें कि सीएम ने यह निर्देश सोमवार शाम शास्त्री भवन में समीक्षा के दौरान दिए। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित विभागों की सड़कों पर उनका साइन बोर्ड लगाया जाए। सड़कों के गड्ढामुक्त तथा निर्माण कार्य में लगे ठेकेदारों को इस शर्त पर काम दिया जाए कि अगले पांच वर्षों तक वो सड़क ​की देखरेख करेंगे। उन्होंने राज्य में एनएचएआई के अन्तर्गत आने वाले राजमार्गों के विषय में इस संस्था के उच्चाधिकारियों से वार्ता कर उन्हें शीघ्र गड्ढामुक्त कराने के निर्देश भी दिए।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी 31 अक्टूबर तक प्रदेश की सभी सड़कों को गड्ढामुक्त करने के निर्देश दिए हैं। अधिकारियों को जल्द से जल्द काम पूरा करने का आदेश देते हुए उन्होने कहा कि इसके बाद वह स्वयं प्रदेश की सड़कों के मरम्मत कार्यों का औचक निरीक्षण करेंगे। सीएम योगी ने कहा कि विभिन्न विभागों के अन्तर्गत आने वाली सड़कों को गड्ढामुक्त करने की जिम्मेदारी उन्हीं की है। ऐसे में सभी विभाग ये सुनिश्चित करें कि सड़कों का काम जल्द से जल्द पूरा हो सके। सीएम ने इस कार्य के लिए लोक निर्माण विभाग को नोडल विभाग बनाया है। उन्होने कहा कि लोक निर्माण विभाग सभी विभागों से समन्वय स्थापित कर समय से काम पूरा कराए। बता दें कि सीएम ने यह निर्देश सोमवार शाम शास्त्री भवन में समीक्षा के दौरान दिए। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित विभागों की सड़कों पर उनका साइन बोर्ड लगाया जाए। सड़कों के गड्ढामुक्त तथा निर्माण कार्य में लगे ठेकेदारों को इस शर्त पर काम दिया जाए कि अगले पांच वर्षों तक वो सड़क ​की देखरेख करेंगे। उन्होंने राज्य में एनएचएआई के अन्तर्गत आने वाले राजमार्गों के विषय में इस संस्था के उच्चाधिकारियों से वार्ता कर उन्हें शीघ्र गड्ढामुक्त कराने के निर्देश भी दिए।