Republic Day: बॉलीवुड की वो फिल्में जो दिल में जगा दे देशभक्ति की भावना

Republic Day: बॉलीवुड की वो फिल्में जो दिल में जगा दे देशभक्ति की भावना
Republic Day: बॉलीवुड की वो फिल्में जो दिल में जगा दे देशभक्ति की भावना

नई दिल्ली। आज पूरा देश 69वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। बॉलीवुड में शुरू से ही देशभक्ति पर फिल्में बनती आ रही हैं लेकिन अगर हम ध्यान दें तो पिछले कुछ सालों में एक बार फिर से देशभक्ति फिल्मों का नया ट्रेंड देखने को मिला है। आज हम आपको गणतन्त्र दिवस के मौके पर कुछ ऐसी फिल्मों के बारे में बताने जा रहे हैं जो हमारे अंदर देशभक्ति का जज्बा पैदा करती हैं और वो फिल्मे सुपरहिट भी रही हैं।

अक्षय कुमार की साल 2007 में फिल्म आई ‘नमस्ते लंदन’। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर काफी सफल रही थी। फिल्म में अक्षय ने एक पंजाबी लड़के का किरदार अदा किया था जो शादी कर लंदन जाता है। ‘नमस्ते लंदन’ फिल्म में अक्षय कुमार पर फिल्माया गया एक सीन काफी लोकप्रिय है जिसमें वह एक अंग्रेज व्यक्ति को भारत की पहचान कराते हैं। इस सीन में अक्षय अंग्रेजों को भारत के बारे में वह बात बताते हैं जो वह नहीं जानते या शायद जानना नहीं चाहते।

{ यह भी पढ़ें:- पेटीएम यूजर्स को मिलेगा शानदार ऑफर, मिलेगा इतना कैशबैक }

2007 में रिलीज हुई ‘चक दे इंडिया’ शाहरुख खान की अब तक की सबसे बेहतरीन फिल्मों में से एक माना जाता है। इस फिल्म में शाहरुख खान ने कबीर खान नाम के एक भारतीय हॉकी खिलाड़ी और कोच का किरदार निभाया था। फिल्म में शाहरुख द्वारा बोला गया डायलॉग ’70 मिनट’ आज भी लोगों को नहीं भूलता। फिल्म के एक सीन में शाहरुख महिला खिलाड़ियों को ट्रेनिंग देते हुए कहते हैं ‘मुझे स्टेट्स के नाम ना सुनाई देते हैं, ना दिखाई देते हैं, सिर्फ एक मुल्क का नाम सुनाई देता है- इंडिया’

अक्षय कुमार की मशहूर फिल्म ‘एयरलिफ्ट’ कुवैत से भारतीयों को छुड़ाए जाने वाले ऑपरेशन पर आधारित है। अक्षय ने फिल्म में रंजीत कात्याल नाम के एक कारोबारी का किरदार निभाया था। जिसने 90 के दशक में खाड़ी संकट के दौरान अनगिनत भारतीय परिवारों को कुवैत और इराक से बाहर निकालने में मदद की थी।

राकेश ओमप्रकाश मेहरा के निर्देशन में बनी फिल्म ‘भाग मिल्खा भाग’ एथलिट मिल्खा सिंह की बायोपिक है। भारत-पाक बंटवारे के दौरान जान बचाकर दिल्ली पहुंचे मिल्खा सिंह एक रिफ्यूजी कैंप में अपनी बहन से मिलते हैं और यहीं से कहानी शुरू होती है। फिल्म के आखिर में जब मिल्खा सिंह फीनिशिंग लाइन पार करके जीत हासिल करते हैं तो फिल्म हर भारतीय के अंदर देशभक्ति का जज्बा जगा देती है।

साल 2017 में आई फिल्म ‘रुस्तम’ जो कि सच्ची घटना पर आधारित फिल्म है। इस फिल्म में एक नेवी अधिकारी की मेहनत और देशप्रेम की कहानी को दिखाया गया है।

Loading...