यूपी के 16 में से छह शहरों को मिलेंगी महिला मेयर, आरक्षण सूची जारी

यूपी के 16 में से छह शहरों को मिलेंगी महिला मेयर, आरक्षण सूची जारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के नगर निकाय चुनावों को ध्यान में रखते हुए नगर निकाय निदेशालय ने 16 महानगर​ निगमों के मेयर पद के लिए आरक्षण व्यवस्था की घोषणा गुरुवार की शाम को कर दी है। यूपी के नगर निगम अधिनियम 1959 के तहत आरक्षण सूची जारी की गई है।

इस सूची के मुताबिक सात नगर निगमों के मेयर पद को अनारक्षित रखा गया है। तीन शहरों के मेयर पद की दावेदारी महिलाओं के लिए आरक्षित रखी गई है। दो सीट पिछड़ा वर्ग महिला, दो सीट पिछड़ा वर्ग, एक अनुसूचित जाति महिला और एक अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित की गई है।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी निकाय चुनाव: शहर की सरकार का शपथ ग्रहण समारोह, मेरठ में वन्देमातरम् पर विवाद }

नगर निगम निदेशालय की ओर से जारी सूची पर 20 अक्टूबर 2017 तक आपत्तियां स्वीकार की जाएंगी। आपत्तियों के आधार पर यह इस सू​ची में बदलाव संभव हो सकते हैं।

मेयर पद के लिए आरक्षित सीटें निम्नवत् हैं।

{ यह भी पढ़ें:- Exclusive: दरक रहा 'कांग्रेस का किला', क्या अमेठी की जनता का मोह भंग हो रहा? }

अनारक्षित नगर निगम —
आगरा
इलाहाबाद
बरेली
मुरादाबाद
अलीगढ़
झांसी
अयोध्या

सामान्य महिला वर्ग के लिए आरक्षित नगर निगम —
कानपुर
लखनऊ
गाजियाबाद

पिछड़ा वर्ग महिला आरक्षित नगर निगम —
फिरोजाबाद
वाराणसी

{ यह भी पढ़ें:- यूपी निकाय चुनाव: हाथी का बटन दबाने पर वोट गया कमल को, बदलनी पड़ी EVM मशीन }

पिछड़ा वर्ग आरक्षित नगर निगम —
सहारनपुर
गोरखपुर

अनुसूचित जाति महिला आरक्षित नगर निगम —
मेरठ

अनुसूचित जाति आरक्षित नगर निगम —
मथुरा—वृंदावन

आपको बता दें कि नवंबर में उत्तर प्रदेश में 654 स्थानीय नगर निकाय हैं। जिनके लिए नवंबर में चुनाव संभावित हैं।

{ यह भी पढ़ें:- सपा के निकाय चुनाव प्रचार से 'नेता जी' गायब }

Loading...