पूर्व CM मायावती के सचिव रहे सेवानिवृत्त IAS नेतराम की 230 करोड़ की ‘बेनामी’ संपत्ति जब्त

mayawati
यूपी की पूर्व CM मायावती के सचिव रहे सेवानिवृत्त IAS नेतराम की 230 करोड़ की ‘बेनामी’ संपत्ति जब्त

लखनऊ। आयकर विभाग ने उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के सचिव रहे सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी नेतराम की 230 करोड़ की ‘बेनामी’ संपत्ति जब्त की है। आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। आईटी ने इन छापों में 1.64 करोड़ रुपए की नकदी, 50 लाख रुपए की मो ब्लां कलम और पांच महंगी एसयूवी की जब्ती की थी और दावा किया था कि अधिकारी की 300 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति से जुड़े कागजात बरामद किए थे।

Retired Ias Netrams Benami Property Worth 230 Crore Seized :

अधिकारी ने बताया कि विभाग ने दिल्ली, नोएडा, कोलकाता और मुंबई में कुल 19 अचल संपत्ति जब्त की है। अधिकारी ने बताया कि बेनामी संपत्ति लेनदेन निषेध कानून की धारा 24(तीन) के तहत विभाग की दिल्ली जांच इकाई ने नेतराम के खिलाफ जब्ती का अस्थायी आदेश जारी किया है।

जब्त की गई संपत्ति वाणिज्यिक और रिहाइशी दोनों तरह की है। बसपा सुप्रीमो मायावती के मुख्यमंत्री रहने के दौरान शीर्ष पदों पर रह चुके अधिकारी के ठिकानों पर पहली बार आयकर विभाग ने इस साल मार्च में छापा मारा था।

विभाग ने इन छापों में 1.64 करोड़ रुपए की नकदी, 50 लाख रुपए की मो ब्लां कलम और पांच महंगी एसयूवी की जब्ती की थी और दावा किया था कि अधिकारी की 300 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति से जुड़े कागजात बरामद किए थे। विभाग की दिल्ली इकाई ने बेनामी लेनदेन रोधी कानून के तहत मामले की जांच अपने हाथ में ले ली थी।

लखनऊ। आयकर विभाग ने उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के सचिव रहे सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी नेतराम की 230 करोड़ की ‘बेनामी’ संपत्ति जब्त की है। आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। आईटी ने इन छापों में 1.64 करोड़ रुपए की नकदी, 50 लाख रुपए की मो ब्लां कलम और पांच महंगी एसयूवी की जब्ती की थी और दावा किया था कि अधिकारी की 300 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति से जुड़े कागजात बरामद किए थे। अधिकारी ने बताया कि विभाग ने दिल्ली, नोएडा, कोलकाता और मुंबई में कुल 19 अचल संपत्ति जब्त की है। अधिकारी ने बताया कि बेनामी संपत्ति लेनदेन निषेध कानून की धारा 24(तीन) के तहत विभाग की दिल्ली जांच इकाई ने नेतराम के खिलाफ जब्ती का अस्थायी आदेश जारी किया है। जब्त की गई संपत्ति वाणिज्यिक और रिहाइशी दोनों तरह की है। बसपा सुप्रीमो मायावती के मुख्यमंत्री रहने के दौरान शीर्ष पदों पर रह चुके अधिकारी के ठिकानों पर पहली बार आयकर विभाग ने इस साल मार्च में छापा मारा था। विभाग ने इन छापों में 1.64 करोड़ रुपए की नकदी, 50 लाख रुपए की मो ब्लां कलम और पांच महंगी एसयूवी की जब्ती की थी और दावा किया था कि अधिकारी की 300 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति से जुड़े कागजात बरामद किए थे। विभाग की दिल्ली इकाई ने बेनामी लेनदेन रोधी कानून के तहत मामले की जांच अपने हाथ में ले ली थी।