रिपोर्ट में हुआ खुलासा : भारत के खिलाफ एफ-16 के प्रयोग पर अमेरिका ने पाक को लगाई थी कड़ी फटकार

F 16
रिपोर्ट में हुआ खुलासा : भारत के खिलाफ एफ-16 के प्रयोग पर अमेरिका ने पाक को लगाई थी कड़ी फटकार

नई दिल्ली। बीते फरवरी माह में भारतीय वायुसेना की बालाकोट स्ट्राइक के जवाब में पाकिस्तान ने एफ16 का प्रयोग किया था। इसको लेकर अमेरिका ने पाकिस्तान को जमकर फटकार लगाई थी। हालांकि अमेरिका ने अपनी रिपोर्ट में बालाकोट स्ट्राइक का जिक्र नहीं किया था। अमेरिका ने पाकिस्तानी वायुसेना प्रमुख को अगस्त महीने में पत्र लिखकर खुलकर नाराजगी जाहिर की थी। इसका खुलासा एक प्रसिद्ध अमेरिकी बेवसाइट ने किया है।

Revealed In The Report Pakistan Had Severely Reprimanded Us For Using F 16 Against India :

बताया जा रहा है कि अमेरिका अपनी पांचवी पीढ़ी के लड़ाकू जहाज एफ16 को भारत के पुराने मिग21 बाइसन द्वारा मार गिराने को लेकर पाकिस्तान से बहुत नाराज है। एक अमेरिकी वेबसाइट का दावा है कि अमेरिका ने F16 फाइटर जेट्स का दुरुपयोग करने और पाकिस्तान के साथ अमेरिका की सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए पाकिस्तान को जमकर खरी-खोटी सुनाई।

तत्कालीन अमेरिकी अस्त्र नियंत्रण और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मामलों के अंडर-अण्डर सेक्रेटरी एंड्रिया थॉम्पसन ने अगस्त में पाकिस्तान के एयर चीफ मार्शल मुजाहिद अनवर खान को एक पत्र लिखा था जिसमें एफ -16 फाइटर जेट्स के इस्तेमाल पर उन्हें फटकार लगाई थी। इस पत्र में साफ तौर पर लिखा है कि पाकिस्तान ने एफ-16 को बेचने के दौरान तय किए गए नियम को तोड़कर भारत के खिलाफ इसका प्रयोग किया है।

इस पत्र को अमेरिका ने तब लिखा जब उसके विदेश विभाग ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि पाकिस्तान ने एफ16 के बिक्री के संबंधित सभी शर्तों को तोड़ते हुए अमेरिकी मिसाइलों के साथ इस एडवांस फाइटर जेट को भारत के साथ लगी सीमा पर तैनात कर चुका है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर एयरस्ट्राइक की थी। इसके बाद पाकिस्तान ने बदला लेने की नीयत से भारतीय सीमा में अपने लड़ाकू विमान भेजे थे। हालांकि इस दौरान पाकिस्तानी वायुसेना को भारतीय लड़ाकू विमानों ने खदेड़ दिया था।

नई दिल्ली। बीते फरवरी माह में भारतीय वायुसेना की बालाकोट स्ट्राइक के जवाब में पाकिस्तान ने एफ16 का प्रयोग किया था। इसको लेकर अमेरिका ने पाकिस्तान को जमकर फटकार लगाई थी। हालांकि अमेरिका ने अपनी रिपोर्ट में बालाकोट स्ट्राइक का जिक्र नहीं किया था। अमेरिका ने पाकिस्तानी वायुसेना प्रमुख को अगस्त महीने में पत्र लिखकर खुलकर नाराजगी जाहिर की थी। इसका खुलासा एक प्रसिद्ध अमेरिकी बेवसाइट ने किया है। बताया जा रहा है कि अमेरिका अपनी पांचवी पीढ़ी के लड़ाकू जहाज एफ16 को भारत के पुराने मिग21 बाइसन द्वारा मार गिराने को लेकर पाकिस्तान से बहुत नाराज है। एक अमेरिकी वेबसाइट का दावा है कि अमेरिका ने F16 फाइटर जेट्स का दुरुपयोग करने और पाकिस्तान के साथ अमेरिका की सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए पाकिस्तान को जमकर खरी-खोटी सुनाई। तत्कालीन अमेरिकी अस्त्र नियंत्रण और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मामलों के अंडर-अण्डर सेक्रेटरी एंड्रिया थॉम्पसन ने अगस्त में पाकिस्तान के एयर चीफ मार्शल मुजाहिद अनवर खान को एक पत्र लिखा था जिसमें एफ -16 फाइटर जेट्स के इस्तेमाल पर उन्हें फटकार लगाई थी। इस पत्र में साफ तौर पर लिखा है कि पाकिस्तान ने एफ-16 को बेचने के दौरान तय किए गए नियम को तोड़कर भारत के खिलाफ इसका प्रयोग किया है। इस पत्र को अमेरिका ने तब लिखा जब उसके विदेश विभाग ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि पाकिस्तान ने एफ16 के बिक्री के संबंधित सभी शर्तों को तोड़ते हुए अमेरिकी मिसाइलों के साथ इस एडवांस फाइटर जेट को भारत के साथ लगी सीमा पर तैनात कर चुका है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर एयरस्ट्राइक की थी। इसके बाद पाकिस्तान ने बदला लेने की नीयत से भारतीय सीमा में अपने लड़ाकू विमान भेजे थे। हालांकि इस दौरान पाकिस्तानी वायुसेना को भारतीय लड़ाकू विमानों ने खदेड़ दिया था।