1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. स्टडी में खुलासा : Covid Vaccination करवा चुके लोग भी फैला सकते हैं ‘Delta Variant’

स्टडी में खुलासा : Covid Vaccination करवा चुके लोग भी फैला सकते हैं ‘Delta Variant’

कोविड-19 (COVID-19) का टीका लगवा चुके लोगों के संपर्क में आने वाले लोग भी कोरोनावायरस (Coronavirus) के डेल्टा वैरिएंट (Delta Variant) से संक्रमित कर सकते हैं। इसका खुलासा सालभर चली स्टडी के बाद हुआ है।ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट (Bloomberg report) के मुताबिक, ब्रिटेन में 621 लोगों पर चली स्टडी के बाद यह खुलासा हुआ है। द लैंसेट इंफेक्शियस डिजीज मेडिकल जर्नल (The Lancet Infectious Disease Medical Journal) में बीते गुरुवार को प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि स्टडी में ऐसे 621 लोगों को शामिल किया था। जिनमें कोविड के हल्के लक्षण थे। वैज्ञानिकों ने स्टडी में पाया कि टीकाकृत होने के बावजूद उनमें संक्रमण की दर चरम पर थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कोविड-19 (COVID-19) का टीका लगवा चुके लोगों के संपर्क में आने वाले लोग भी कोरोनावायरस (Coronavirus) के डेल्टा वैरिएंट (Delta Variant) से संक्रमित कर सकते हैं। इसका खुलासा सालभर चली स्टडी के बाद हुआ है।

पढ़ें :- Supreme Court का बड़ा फैसला, कहा- वैक्सीन के लिए किसी को मजबूर नहीं किया जा सकता

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट (Bloomberg report) के मुताबिक, ब्रिटेन में 621 लोगों पर चली स्टडी के बाद यह खुलासा हुआ है। द लैंसेट इंफेक्शियस डिजीज मेडिकल जर्नल (The Lancet Infectious Disease Medical Journal) में बीते गुरुवार को प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि स्टडी में ऐसे 621 लोगों को शामिल किया था। जिनमें कोविड के हल्के लक्षण थे। वैज्ञानिकों ने स्टडी में पाया कि टीकाकृत होने के बावजूद उनमें संक्रमण की दर चरम पर थी।

स्टडी में यह भी पाया गया कि कोविड टीकाकरण (Covid Vaccination) करा चुके 25 फीसदी लोगों के संपर्कों में आए लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं। जबकि, बिना टीका (Vaccination) लगवाए लोगों के संपर्क में करीब 38 फीसदी लोग संक्रमित हुए। स्टडी में यह भी सामने आया है कि जिन लोगों ने टीका लगवा लिया था। उनमें संक्रमण के हल्के लक्षण पाए गए, जबकि जिन लोगों ने टीका नहीं लगवाए थे। उनके संपर्क में आए संक्रमितों की स्थिति ज्यादा खराब रही और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

स्टडी में कहा  कि सिर्फ टीकाकरण (Vaccination) से ही डेल्टा वैरिएंट (Delta Variant)  संक्रमण से नहीं बचा जा सकता है। हालांकि, स्टडी में कहा गया है कि वैक्सीन लेने के बाद संक्रमण का असर कम हो जाता है। यह खतरनाक स्तर पर नहीं पहुंच पाता है। इस स्टडी का लंदन के इम्पीरियल कॉलेज (Imperial College of London) के प्रोफेसर अजीत ललवानी ने सह नेतृत्व किया है।

पढ़ें :- अरविंद की 'अंगड़ाई' से भाजपा हुई लाल, केजरीवाल को कहा- अशिष्ट और बेशर्म, देखें viral video
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...