कानपुर में भीषण सड़क हादसा, बैंक मैनेजर समेत SBI के आठ कर्मचारियों की मौत

कानपुर| 500 और 1000 रुपये के नोट बदलने में आम लोगों को दिक्कत न हो इसलिए देर रात तक बैंक में काम कर लौट रहे एसबीआई के ब्रांच मैनेजर समेत 8 कर्मचारियों की कानपुर के बिधनू में सड़क हादसे में मौत हो गई| एक्सीडेंट की सूचना पर पहुची पुलिस ने दो घंटे के रेस्क्यू के बाद क्रेन से कंटेनर हटवाकर वैन में फंसे शवो को बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है| यदि कंटेनर वैन के ऊपर नही गिरता तो या फिर समय से रेस्क्यू कर लिया जाता तो कई बैंक कर्मियों की जान बच सकती थी|




बिधनू थाना क्षेत्र हमीरपुर-सागर मार्ग बिनगवा गांव के पास यह दर्दनाक हादसा हुआल कंटेनर कानपुर की तरफ से जा रहा था और एसबीआई के कर्मचारी वैन से घाटमपुर की तरफ से लौट रहे थे| तभी बिनगवा गांव के पास ही कंटेनर व वैन में जोरदार भिडंत हो गई और वन हाइवे के किनारे बने गड्ढे जिसमे पानी भरा था उस पर जा गिरी और वैन के ऊपर कंटेनर गिर गया| हाइवे में सन्नाटा होने के कारण लोगो की चीख पुकार सुन वहां से गुजर रहे वाहन सवारों ने इसकी सूचना पुलिस को दी|

एक्सीडेंट की सूचना पर पहुंची पुलिस को बड़ी ही मुश्किल से घटना के एक क्रेन मिल पाई l क्रेन को कंटेनर हटाने से लेकर शव निकालने में दो घंटे लग लग गए| तब तक वैन में बैठे सभी बैंक कर्मचारियों व् वैन ड्राइवर समेत 8 की मौत हो चुकी थी| यह बैंक कर्मचारी घाटमपुर शाखा एसबीआई के कर्मचारी थे| शाखा प्रबंधक रूपेंद्र सिंह ,सुनीता सिंह ,फील्ड ऑफिसर अजय तिवारी, फील्ड ऑफिसर राहुल, नवीन श्रीवस्तव, उत्तम कुमार, सोहन लाल शुक्ला, अशोक तिवारी, वैन चालक भारत लाल मौजूद थे|

1000 हजार व 500 के नोटों में बैन लगने के बाद जब 11 नवम्बर को बैंक खुलेगी तो किस तरफ से नोट बदले जाएंगे| कैसे पब्लिक डीलिंग की जाएगी, नई करेंशी को कैसे ग्रामीणों को दिया जाना है, नकली नोटों व असली नोटों की कैसे पहचान करनी हैl इससे सम्बंधित काम के लिए देर रात तक बैंक में काम कर कर रहे थे| काम ख़त्म कर सभी कानपुर लौट रहे थे|

एसपी ग्रामीण राजेश कुमार के मुताबिक कंटेनर वैन को घसीटते हुए गड्ढे में जा गिरी| इस बीच कंटेनर वैन के ऊपर गिरा गिरा जिससे वैन दब गई और सभी की मौत हो गई| क्रेन के माध्यम से कंटेनर को हटा कर सभी के शवो को बाहर निकाल लिया गया है और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है|