लूटपाट के दौरान भावुक बदमाश बोले- ‘बहन हमें परिवार की रोजी रोटी चलानी है’

लखनऊ लूट, लखनऊ पुलिस, भाजपा विधायक बहन
लूटपाट के दौरान भावुक बदमाश बोले- 'बहन हमें परिवार की रोजी रोटी चलानी है'
लखनऊ। राजधानी लखनऊ में बेखौफ बदमाशों ने भाजपा विधायक की बहन के घर जमकर लूटपाट की। घटना शुक्रवार देर रात की है। बदमाश पिस्टल की नोक पर घर वालों को बंधक बनाकर लूटपाट करते रहे और मोबाइल फोन भी तोड़ डाले। सूचना के बाद पहुंची पुलिस छानबीन में जुटी है। घटना के बाद विधायक की बहन ने बताया कि हमारे आंसू देखकर बदमाश भावुक हो गए। बदमाशों ने कहा कि परिवार की रोजी रोटी चलानी है, हम आपको परेशान नहीं…

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में बेखौफ बदमाशों ने भाजपा विधायक की बहन के घर जमकर लूटपाट की। घटना शुक्रवार देर रात की है। बदमाश पिस्टल की नोक पर घर वालों को बंधक बनाकर लूटपाट करते रहे और मोबाइल फोन भी तोड़ डाले। सूचना के बाद पहुंची पुलिस छानबीन में जुटी है। घटना के बाद विधायक की बहन ने बताया कि हमारे आंसू देखकर बदमाश भावुक हो गए। बदमाशों ने कहा कि परिवार की रोजी रोटी चलानी है, हम आपको परेशान नहीं करेंगे।

मिली जानकारी के मुताबिक, मानक नगर थानाक्षेत्र में हरदोई से भाजपा विधायक आशीष सिंह की बहन गीता सिंह अपने पति रिटायर्ड इंजीनियर सुधीर कुमार सिंह के साथ रहती हैं। गीता हसनगंज प्राथमिक विद्यालय में अध्यापिका हैं। गीता के मुताबिक, शुक्रवार रात 12:30 के करीब दीवार फांदकर दो चोर घर में घुस आए और उनकी पिस्टल के बल पर लूटपाट की। जान से मारने की धमकी देकर कैश और जेवरात निकलवा लिए। साथ ही मोबाइलों को भी तोड़ डाला।

{ यह भी पढ़ें:- रेंजर ने नही ​किया भुगतान तो टंकी पर चढ़ा ठेकेदार }

घटना की जानकारी पर एएसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र व सीओ आलमबाग संजीव कांत सिन्हा टीम के साथ मौके पर पहुंचे। दंपती से घटना के बारे में पूछताछ की और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले। हालांकि अभी तक बदमाशों के बारे में कोई सुराग नहीं लग सका है।

पैर छूकर घर से गए बदमाश-

{ यह भी पढ़ें:- सीएम आवास के सामने सपरिवार आत्मदाह का प्रयास, भाजपा विधायक पर दुष्कर्म का आरोप }

इस घटना के बाद से गीता काफी डरी हुई हैं। गीता ने बताया कि उस रात उन्होने बदमाशों से रोते हुए कहा, अभी कुछ दिन पहले ही अपने भाई को खोया है। आप लोग मेरे भाई जैसे हो, हमें मारकर आपको क्या मिलेगा। दंपती के आंसू देखकर बदमाश भावुक हो गए। बदमाशों ने गीता से कहा कि बहन हमारी मजबूरी है, परिवार की रोजी रोटी चलानी है। घर से जाते समय बदमाशों ने दंपती के पैर छूए और आगे से लूटपाट ना करने की बात कही।

Loading...