1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. रोहित शर्मा ने बताया, 2013 में कैसे मिली थी उन्हें मुंबई इंडियंस की कप्तानी

रोहित शर्मा ने बताया, 2013 में कैसे मिली थी उन्हें मुंबई इंडियंस की कप्तानी

By रवि तिवारी 
Updated Date

रोहित शर्मा मौजूदा दौर के फाइनेस्ट बैट्समैन में से एक हैं। इसके अलावा आइपीएल में मुंबई इंडियंस के कप्तान के तौर पर वो काफी सफल हैं। रोहित ने आर अश्विन के साथ इंस्टाग्राम लाइव सेशन के दौरान बताया कि किस तरह से उन्हें साल 2013 में मुंबई इंडियंस की कप्तानी सौंपी गई। इस वक्त मुंबई आइपीएल की सबसे सफल टीम है।

12 सीजन में इस टीम ने चार बार 2013, 2015, 2017 और 2019 में आइपीएल खिताब जीते हैं और ये कमाल रोहित की कप्तानी में ही हुआ है। हालांकि सचिन तेंदुलकर, हरभजन सिंह और रिकी पोंटिंग ने भी इस टीम की कप्तानी की, लेकिन ये सब एक बार भी टीम के लिए खिताब जीतने में सफल नहीं रहे। रोहित ने बताया कि साल 2012 में सचिन ने साफ कर दिया था कि वो टीम को लीड नहीं करेंगे और फिर हरभजन सिंह को कप्तान बनाया गया था। 2012 में मुंबई प्लेऑफ में पहुंची, लेकिन फाइनल में नहीं पहुंच पाई। साल 2013 में पोंटिंग को मुंबई ने खरीदा।

रोहित ने इसके बाद बताया कि साल 2013 में भज्जी को कप्तान के तौर पर क्यों नहीं दोहराया गया मैं नहीं जानता और मुझे लगा कि मैं कप्तान बनूंगा, लेकिन वो पोंटिंग को टीम में लेकर आए और वो कप्तान बने। उन्होंने कहा कि पोंटिंग हर खिलाड़ी का दिमाग पढ़ लेते थे सबके साथ उनका तालमेल काफी अच्छा था। हालांकि उन्होंने तुरंत ही टीम की कप्तानी छोड़ दी। उन्होंने मुंबई के लिए 6 मैचों में सिर्फ 52 रन बनाए थे और वो रन बनाने में कामयाब नहीं हो पा रहे थे। रोहित ने कहा कि इसके बाद पोंटिंग ने उन्हें बताया कि तुम टीम को लीड करने जा रहे हो।

पोंटिंग ने मुझसे कहा कि वो कप्तानी छोड़ रहे हैं और अब आपको टीम की कमान संभालनी है। दरअसल साल 2013 में पोंटिंग को टीम में खिलाड़ी व कोच दोनों के तौर पर लाया गया था। उनकी सबसे अच्छी बात ये थी कि वो सबकुछ जल्दी समझ जाते थे और युवा खिलाड़ियों की काफी मदद करते थे। वो हर खिलाड़ी की मदद करने के लिए हमेशा उपलब्ध रहते थे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...