रोहित शेखर हत्याकांड: लखनऊ में हुआ प्यार फिर तकरार, आखिर में हुआ ये अंजाम

apoorva-rohit-shekhar
रोहित शेखर हत्याकांड: लखनऊ में हुआ प्यार फिर तकरार, आखिर में हुआ ये अंजाम

नई दिल्ली। दिल्ली के बहुचर्चित रोहित शेखर हत्याकांड का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में रोहित की पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार किया है। पुलिस का दावा है कि अपूर्वा ने ही रोहित की हत्या की है। पूछताछ में पता चला है कि रोहित और अपूर्वा में अक्सर झगड़ा होता था, इसके पीछे की वजह रोहित से एक महिला से अवैध संबंध को बताया जा रहा है। हालांकि दिल्ली क्राइम ब्रांच इस मामले में अभी भी जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में किसी अन्य आरोपी की संलिप्तता की भी जांच की जा रही है।

Rohit Shekhar Murder Case Solved :

रोहित शेखर की मौत को पहले हार्ट अटैक या ब्रेन हेमरेज बताया गया। हालांकि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि शेखर की मौत इन वजहों से नहीं बल्कि उनकी गला दबाकर हत्या की गई है। इसके बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पुलिस का मानना है कि एक वकील होने के नाते अपूर्वा को पता था कि कानून से कैसे बचना है इसलिए वो ये दावा हत्या को एक दुर्घटना बताने के लिए कर रही थी क्योंकि रोहित उस वक्त बेहद नशे में था।

बता दें कि रोहित शेखर और अपूर्वा शुक्ला का प्रेम विवाह हुआ था। शादी के पहले वह लिव-इन में रहते थे। करीबी यह भी बताते हैं कि स्व. एनडी तिवारी रोहित की शादी पहाड़ी लड़की से करवाना चाहते थे।

ऐसे हुई थी अपूर्वा से मुलाकात

रोहित शेखर और अपूर्वा की पहली मुलाकात मेट्रोमोनियल साइट के जरिए हुई थी। अपूर्वा तिवारी सुप्रीम कोर्ट में अधिवक्ता हैं। साल 2017 में रोहित और अपूर्वा लखनऊ में मिले थे, जिसके बाद दोनों को प्यार हो गया। रिश्ता आगे बढ़ा और 31 मार्च को रोहित और अपूर्वा की सगाई हुई। 11 मई को दिल्ली में पांच अशोका रोड स्थित आनंद भवन में सात फेरे लिए थे। बता दें कि जिस वक्त रोहित और अपूर्वा की शादी हुई, उस वक्त एनडी तिवारी मैक्स अस्पताल में भर्ती थे।

नई दिल्ली। दिल्ली के बहुचर्चित रोहित शेखर हत्याकांड का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में रोहित की पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार किया है। पुलिस का दावा है कि अपूर्वा ने ही रोहित की हत्या की है। पूछताछ में पता चला है कि रोहित और अपूर्वा में अक्सर झगड़ा होता था, इसके पीछे की वजह रोहित से एक महिला से अवैध संबंध को बताया जा रहा है। हालांकि दिल्ली क्राइम ब्रांच इस मामले में अभी भी जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में किसी अन्य आरोपी की संलिप्तता की भी जांच की जा रही है। रोहित शेखर की मौत को पहले हार्ट अटैक या ब्रेन हेमरेज बताया गया। हालांकि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि शेखर की मौत इन वजहों से नहीं बल्कि उनकी गला दबाकर हत्या की गई है। इसके बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पुलिस का मानना है कि एक वकील होने के नाते अपूर्वा को पता था कि कानून से कैसे बचना है इसलिए वो ये दावा हत्या को एक दुर्घटना बताने के लिए कर रही थी क्योंकि रोहित उस वक्त बेहद नशे में था। बता दें कि रोहित शेखर और अपूर्वा शुक्ला का प्रेम विवाह हुआ था। शादी के पहले वह लिव-इन में रहते थे। करीबी यह भी बताते हैं कि स्व. एनडी तिवारी रोहित की शादी पहाड़ी लड़की से करवाना चाहते थे।

ऐसे हुई थी अपूर्वा से मुलाकात

रोहित शेखर और अपूर्वा की पहली मुलाकात मेट्रोमोनियल साइट के जरिए हुई थी। अपूर्वा तिवारी सुप्रीम कोर्ट में अधिवक्ता हैं। साल 2017 में रोहित और अपूर्वा लखनऊ में मिले थे, जिसके बाद दोनों को प्यार हो गया। रिश्ता आगे बढ़ा और 31 मार्च को रोहित और अपूर्वा की सगाई हुई। 11 मई को दिल्ली में पांच अशोका रोड स्थित आनंद भवन में सात फेरे लिए थे। बता दें कि जिस वक्त रोहित और अपूर्वा की शादी हुई, उस वक्त एनडी तिवारी मैक्स अस्पताल में भर्ती थे।