RSS का रमजान मेन्यू, यूपी में इस बार गाय के दूध से खोला जाएगा रोजा

लखनऊ। यूपी में चल रहें गौ रक्षा मुहिम को तेज़ करने और मुस्लिम समुदाय के लोगों को एक मंच पर लाने के आरएसएस की मुस्लिम विंग ने एक नया फैसला किया है। राष्ट्रीय मुस्लिम मंच ने नया प्रयोग करते हुए गाय के दूध और उससे बने उत्पादों को ही इस इफ्तार पार्टी में परोसने का फैसला लिया है। मंच का कहना है कि गाय को बचाने और उसका मीट खाने से विभिन्न बीमारियां होने के संदेश को देने के लिए यह फैसला लिया गया है। राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के यूपी और उत्तराखंड के संयोजक महिराज ध्वज सिंह ने कहा कि ऐसा पहली बार होगा, जब लोग गाय का दूध पीकर रोजा खत्म करेंगे।



Rss Muslim Wing Will Serve Cow Milk For Beak Roza In Iftar During Ramzan In Up :

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के सदस्य महीराज दहवाज सिंह ने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है, जब रोजा खोलते वक्त गाय के दूध का इस्तेमाल किया जाएगा। सिंह ने कहा कि गाय का दूध सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इतना ही नहीं दूध से बने घी से दवाईयां भी बनती है। उन्होंने कहा कि घी से इलाज होता है और मीट से बीमारियां लगती है, इसलिए गौ हत्या पर रोक बेहद जरूरी है।



उन्होंने ये भी कहा कि रमजान के दौरान गौ रक्षा पर स्पेशल प्रार्थना भी करवाई जाएंगी और ये बताया जाएगा कि ये किसी पाप से कम नहीं है। इस प्रार्थना के जरिए संदेश दिया जाएगाा कि भक्ति, और भाईचारे का प्रसार किया जाएगा। राष्ट्र की एकता और अखंडता को कायम रखने के लिए संदेश प्रसारित किया जाएगा। इतना ही नहीं एमआरएम के कार्यकर्ता गौ रक्षा के लिए मैसेज भी फैलाएंगे।

लखनऊ। यूपी में चल रहें गौ रक्षा मुहिम को तेज़ करने और मुस्लिम समुदाय के लोगों को एक मंच पर लाने के आरएसएस की मुस्लिम विंग ने एक नया फैसला किया है। राष्ट्रीय मुस्लिम मंच ने नया प्रयोग करते हुए गाय के दूध और उससे बने उत्पादों को ही इस इफ्तार पार्टी में परोसने का फैसला लिया है। मंच का कहना है कि गाय को बचाने और उसका मीट खाने से विभिन्न बीमारियां होने के संदेश को देने के लिए यह फैसला लिया गया है। राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के यूपी और उत्तराखंड के संयोजक महिराज ध्वज सिंह ने कहा कि ऐसा पहली बार होगा, जब लोग गाय का दूध पीकर रोजा खत्म करेंगे। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के सदस्य महीराज दहवाज सिंह ने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है, जब रोजा खोलते वक्त गाय के दूध का इस्तेमाल किया जाएगा। सिंह ने कहा कि गाय का दूध सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इतना ही नहीं दूध से बने घी से दवाईयां भी बनती है। उन्होंने कहा कि घी से इलाज होता है और मीट से बीमारियां लगती है, इसलिए गौ हत्या पर रोक बेहद जरूरी है। उन्होंने ये भी कहा कि रमजान के दौरान गौ रक्षा पर स्पेशल प्रार्थना भी करवाई जाएंगी और ये बताया जाएगा कि ये किसी पाप से कम नहीं है। इस प्रार्थना के जरिए संदेश दिया जाएगाा कि भक्ति, और भाईचारे का प्रसार किया जाएगा। राष्ट्र की एकता और अखंडता को कायम रखने के लिए संदेश प्रसारित किया जाएगा। इतना ही नहीं एमआरएम के कार्यकर्ता गौ रक्षा के लिए मैसेज भी फैलाएंगे।