राममंदिर के लिए RSS की कवायद दिल्ली में फेल, संकल्प रैली में आए सिर्फ सौ लोग

rss sankalp rath yatra
राममंदिर के लिए RSS की कवायद दिल्ली में फेल, संकल्प रैली में आए सिर्फ सौ लोग

नई दिल्ली। राम मंदिर निर्माण को लेकर देश की राजनीति में मची हलचल के बीच राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ भी काफी सक्रिय हो गया है। मंदिर निर्माण के लिए आरएसएस आज दिल्ली में संकल्प् यात्रा निकाल रहा है। ये यात्रा 9 दिन चलेगी। इस यात्रा की शुरुआत झंडेवालां मंदिर से हुई। 9 दिसंबर को इस यात्रा के समापन के मौके पर विश्व हिंदू परिषद एक धर्म सभा का आयोजन कर रही है। बता दें कि आरएसएस की इस यात्रा में कई संस्थाएं भी शामिल हो रही है।

Rss Sankalp Rath Yatra In Delhi For Ram Mandir In Ayodhya Is Fail First Day :

बताया जा रहा है कि संघ के प्रांत संघचालक कुलभूषण आहूजा ने दिल्ली के झंडेवालान मंदिर से हरी झंडी दिखाई। वहीं जिस तरह का माहौल बनाया जा रहा था इस यात्रा को लेकर, ज़मीन पर इसके उलट तस्वीर दिखी। तैयारियों को देख कयास लगाए जा रहे थे इस संकल्प यात्रा में लाखों की संख्या में लोग एकत्रित होंगे, लेकिन आज यात्रा की शुरुआत के दौरान वहां बमुश्किल सौ लोग ही उपस्थित थे। जिसके चलते पहले दिन संघ की रथ यात्रा दिल्ली में फ़ीकी ही रही।

बता दें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, वीएचपी और संत समाज लगातार केन्द्र सरकार पर राममंदिर निर्माण को लेकर सख्त कदम उठाने का दबाव बना रहा है। सरकार से मांग की जा रही है कि अध्यादेश लाकर या कानून बनाकर जल्द से जल्द अयोध्या मे भव्य राम मंदिर का निर्माण करवाए।

नई दिल्ली। राम मंदिर निर्माण को लेकर देश की राजनीति में मची हलचल के बीच राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ भी काफी सक्रिय हो गया है। मंदिर निर्माण के लिए आरएसएस आज दिल्ली में संकल्प् यात्रा निकाल रहा है। ये यात्रा 9 दिन चलेगी। इस यात्रा की शुरुआत झंडेवालां मंदिर से हुई। 9 दिसंबर को इस यात्रा के समापन के मौके पर विश्व हिंदू परिषद एक धर्म सभा का आयोजन कर रही है। बता दें कि आरएसएस की इस यात्रा में कई संस्थाएं भी शामिल हो रही है।बताया जा रहा है कि संघ के प्रांत संघचालक कुलभूषण आहूजा ने दिल्ली के झंडेवालान मंदिर से हरी झंडी दिखाई। वहीं जिस तरह का माहौल बनाया जा रहा था इस यात्रा को लेकर, ज़मीन पर इसके उलट तस्वीर दिखी। तैयारियों को देख कयास लगाए जा रहे थे इस संकल्प यात्रा में लाखों की संख्या में लोग एकत्रित होंगे, लेकिन आज यात्रा की शुरुआत के दौरान वहां बमुश्किल सौ लोग ही उपस्थित थे। जिसके चलते पहले दिन संघ की रथ यात्रा दिल्ली में फ़ीकी ही रही।बता दें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, वीएचपी और संत समाज लगातार केन्द्र सरकार पर राममंदिर निर्माण को लेकर सख्त कदम उठाने का दबाव बना रहा है। सरकार से मांग की जा रही है कि अध्यादेश लाकर या कानून बनाकर जल्द से जल्द अयोध्या मे भव्य राम मंदिर का निर्माण करवाए।