RTI में खुलासा: राजभवन के 86 कर्मचारियों पर हर महीने खर्च हो रहे 40 लाख

rajbhawan-up
RTI में खुलासा: राजभवन के 86 कर्मचारियों पर हर महीने खर्च हो रहे 40 लाख

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल के आवास राजभवन में तैनात कर्मचारियों के मासिक वेतन को लेकर एक आरटीआई में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। राजभवन के 86 कर्मचारियों पर हर महीने 40 लाख रुपये का खर्च आता है। इनमें से प्रमुख तथा विशेष सचिव का वेतन शासन द्वारा वहन किया जाता है, जबकि अन्य कर्मियों के वेतन के लिए करीब 40 लाख रुपये का खर्च आता है। आरटीआई एक्टीविस्ट डा. नूतन ठाकुर की आरटीआई के बाद ये जानकारी सामने आई है।

Rti Reveals In Uttar Pradesh Raj Bhawan 40 Lakh Monthly Salary Paid For 86 Staffers :

राज भवन के जन सूचना अधिकारी हेमंत कुमार चौधरी द्वारा डा. ठाकुर को दी गई सूचना के अनुसार राज भवन में कुल 86 कर्मी काम करते हैं,जिनमें एक प्रमुख सचिव, एक विशेष सचिव तथा एक विधि परामर्शी हैं इसी के साथ ही 4 विशेष कार्याधिकारी, 4 निजी सचिव तथा अन्य सचिवालयीय सहायक हैं। वहीं इनके अलावा 1 शेफ, 1 स्टीवर्ड, 6 चालक, 3 वरिष्ठ अनुसेवक तथा 19 अनुसेवक हैं। इनके साथ 16 बेयरर, 5 सहायक बेयरर, 3 मेट, 2 कुक, 1 टेलर, 1 रजक तथा 5 सफाईकर्मी हैं। प्रमुख तथा विशेष सचिव के वेतन शासन से मिलते हैं जबकि अन्य कर्मियों का मासिक वेतन 39,70,530 रुपये है।

सूचना अधिकारी ने राज भवन की सुरक्षा के लिए विभिन्न शासकीय पुलिस कर्मियों की संख्या और उनका मासिक वेतन आरटीआई के अधीन अपवर्जित बताते हुए मना कर दिया। इस पर नूतन का कहना है कि मना करने का कारण सही नहीं दिखता है और वे इसके खिलाफ अपील करेंगी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल के आवास राजभवन में तैनात कर्मचारियों के मासिक वेतन को लेकर एक आरटीआई में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। राजभवन के 86 कर्मचारियों पर हर महीने 40 लाख रुपये का खर्च आता है। इनमें से प्रमुख तथा विशेष सचिव का वेतन शासन द्वारा वहन किया जाता है, जबकि अन्य कर्मियों के वेतन के लिए करीब 40 लाख रुपये का खर्च आता है। आरटीआई एक्टीविस्ट डा. नूतन ठाकुर की आरटीआई के बाद ये जानकारी सामने आई है। राज भवन के जन सूचना अधिकारी हेमंत कुमार चौधरी द्वारा डा. ठाकुर को दी गई सूचना के अनुसार राज भवन में कुल 86 कर्मी काम करते हैं,जिनमें एक प्रमुख सचिव, एक विशेष सचिव तथा एक विधि परामर्शी हैं इसी के साथ ही 4 विशेष कार्याधिकारी, 4 निजी सचिव तथा अन्य सचिवालयीय सहायक हैं। वहीं इनके अलावा 1 शेफ, 1 स्टीवर्ड, 6 चालक, 3 वरिष्ठ अनुसेवक तथा 19 अनुसेवक हैं। इनके साथ 16 बेयरर, 5 सहायक बेयरर, 3 मेट, 2 कुक, 1 टेलर, 1 रजक तथा 5 सफाईकर्मी हैं। प्रमुख तथा विशेष सचिव के वेतन शासन से मिलते हैं जबकि अन्य कर्मियों का मासिक वेतन 39,70,530 रुपये है।सूचना अधिकारी ने राज भवन की सुरक्षा के लिए विभिन्न शासकीय पुलिस कर्मियों की संख्या और उनका मासिक वेतन आरटीआई के अधीन अपवर्जित बताते हुए मना कर दिया। इस पर नूतन का कहना है कि मना करने का कारण सही नहीं दिखता है और वे इसके खिलाफ अपील करेंगी।